india

अब मदर डेयरी या मेडिकल स्टोर पर भी दर्ज करवा सकते हैं “घरेलू हिंसा” से जुड़ी शिकायतें

प्रतिदिन घरेलू हिंसा से जुड़ी शिकायतें मिलती रहती हैं। ज्यादातर मामलों में महिलाएं ही घरेलू हिंसा का शिकार होती है। इसी को लेकर एक नया आदेश आया है। जी हां, आप दूध लेने के लिए तो मदर डेयरी पर अक्सर जाती ही हैं, लेकिन अब अगर लॉकडाउन में आप घरेलू हिंसा की शिकार हुई हैं तो उसकी शिकायत भी मदर डेयरी के बूथ पर दर्ज करा सकती हैं। दिल्ली स्टेट लीगल अथॉरिटी की तरफ से ये सुविधा मदर डेयरी के अलावा डीएमएस और कुछ मेडिकल स्टोर्स पर भी शुरू की गई है।

घरेलू हिंसा की शिकार महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज कराने के अलावा परामर्श और कानूनी सहायता भी हासिल कर सकती हैं। दिल्ली स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी ने महिलाओं को उनके घर के सबसे नजदीक मदर डेयरी बूथ या डीएमएस या फिर मेडिकल स्टोर पर अपनी शिकायत बताने को कहा है। दिल्ली स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी (डालसा) की मेंबर सेक्रेट्री कंवलजीत अरोड़ा ने कहा कि लॉकडाउन में घर से ही पुलिस को फोन करना महिलाएं के लिए मुश्किल है, क्योंकि घरेलू हिंसा करने वाला व्यक्ति घर पर ही उनके साथ बैठा है। कुछ के पास अपने फोन भी नहीं है। ऐसे में मदर डेयरी के बूथ, डीएमएस और मेडिकल स्टोर उनके लिए खासी सहायक है।

इसके अलावा व्हाट्सएप नंबर 9667992802 पर भी महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज करा सकती हैं। इसके अलावा आंगनवाड़ी से जुड़े लोगों को भी इसमें जोड़ा गया है। दिल्ली स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी को अभी तक घरेलू हिंसा की करीब 100 शिकायतें मिली है। नेशनल लीगल सर्विस अथॉरिटी ने हाल ही में पाया है कि देश की राजधानी दिल्ली घरेलू हिंसा के मामलों में 15 मई तक पूरे देश में तीसरे नंबर पर है। घरेलू हिंसा के बढ़े होने के पीछे का कारण लॉकडाउन में पुरुषों के घर मे महीनों से बंद होने के बाद के तनाव को भी माना जा रहा है।

कंवलजीत अरोड़ा का कहना है कि पहले हम समझाने की ही कोशिश करते हैं। कानूनी विकल्प की जरूरत तब है, जब बातचीत से समाधान ना निकले। न्याय दिलाने के लिए कानूनी मदद भी अथॉरिटी दे रही है। इसके लिए हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने विधिक ऐप को भी लॉन्च किया है। इसके अलावा टोल फ्री नम्बर 1516 पर भी महिलाएं संपर्क कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *