Home india आखिर उत्तर प्रदेश के इन जिलों को ही क्यों सील किया गया,...

आखिर उत्तर प्रदेश के इन जिलों को ही क्यों सील किया गया, बाकियों को क्यों नहीं?

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन लागू है। लेकिन आंशका जताई जा रही है कि लॉकडाउन की समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने बुधवार को अहम फैसला लिया है। सरकार ने 15 जिलों के हॉटस्पॉट इलाकों को सील करने का निर्णय लिया है। हॉटस्पॉट वो क्षेत्र हैं जो कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

बता दें कि यह आदेश आज रात 12 बजे से लागू हो जाएगा। यानी 9 अप्रैल से 15 अप्रैल सुबह तक 15 जिलों के हॉटस्पॉट इलाकों में ये पाबंदी जारी रहेगी। इन इलाकों में जरूरी सामानों की होम डिलिवरी होगी और लोगों की किसी भी प्रकार की छूट नहीं मिलेगी। यानी लॉकडाउन में जो खाने-पीने या दूसरी जरूरी चीजें लाने की मोहलत थी, वो भी इस दौरान नहीं मिलेगी। किसी भी जरूरत की चीज के लिए सरकार से संपर्क करना होगा और सामान की होम डिलीवरी की जाएगी।

यूपी सरकार ने जिन 15 जिलों के हॉटस्पॉट एरिया को पूरी तरह से सील किया है, वह लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, महाराजगंज, सीतापुर और सहारनपुर शामिल हैं। बता दें कि आगरा में 22 हॉटस्पॉट हैं, नोएडा में 12, कानपुर में 12, वाराणसी में 4 हॉटस्पॉट मिले हैं। शामली में तीन और मेरठ में 7 तो वहीं बुलंदशहर में 3 हॉटस्पॉट मिले हैं। इसके अलावा लखनऊ में भी 12 हॉटस्पॉट हैं। गाजियाबाद में 13 हॉटस्पॉट एरिया हैं।

जानकारी के मुताबिक, सील किए गए इलाकों मे किसी भी तरह के काम के लिए लोगों को बाहर निकलने की मनाही होगी। बेहद जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए भी सिर्फ होम डिलीवरी होगी। ऑनलाइन ऑर्डर दे सकते हैं। सरकार एक सेंट्रलाइज्ड कॉल सेंटर बनाएगी, जहां पर भी जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए लोग ऑर्डर दे सकेंगे।

इन सभी पंद्रह जिलों में दिए गए लॉकडाउन पासे की फिर से समीक्षा होगी और जिनके लिए बेहद जरूरी होगा उन्हीं को पास दिए जाएंगे। सब्जी मंडियां, फल मंडियां और भीड़भाड़ वाली किसी भी गतिविधि पर पूरे जिले में प्रतिबंध होगा। सील इलाके के बाहर आने-जाने पर रोक के दौरान दोषी व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा। प्रभावित इलाके को सील करके हर घर का सैनिटाइजेशन किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में कोरोना के 328 मामले सामने आए हैं, जिसमें 281 एक्टिव केस है। तीन लोगों की मौत हो चुकी है और 21 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के 61, आगरा में 49, मेरठ में 25, गाजियाबाद में 23, लखनऊ में 21, कानपुर में 16, शामली में 14, सहारनपुर में 12 केस सामने आ चुके हैं। इसके अलावा सीतापुर में 8, वाराणसी में 7, महाराजगंज में 6, बरेली में 6, लखीमपुर खीरी में 5, गाजीपुर में 5, बस्ती में 5 केस सामने आ चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सोनिया गांधी का मोदी सरकार पर जोरदार हमला- “संविधान मूल्यों और परंपराओं के खिलाफ मोदी सरकार”

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देशवासियों को 74वें स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। साथ ही मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला। सोनिया गांधी...

74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर CM केजरीवाल ने की देशवासियों से ये 3 प्रण लेने की अपील

कोरोना के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में लॉकडाउन लागू किया था। जिसके बाद तभी से...

भारत-चीन के बीच गलवां घाटी में हुई हिंसा पर ITBP ने किया बड़ा खुलासा, जानिए…क्या हुआ था उस रात?

लद्दाख की गलवां घाटी में 15-16 जून को भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसा के बाद से दोनों देशों के...

सुशांत केस पर योग गुरू बाबा रामदेव का बड़ा बयान, बोले- “सुशांत के परिजनों का…”

देश में आज 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है। इस मौक पर योग गुरू बाबा रामदेव ने एक वीडियो जारी किया है।...

Recent Comments