india

औरंगाबाद रेल हादसे में मरने वाले सभी मजदूरों की हुई पहचान, सरकार ने भी किया उचित मुआवजे का ऐलान

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में लॉकडाउन की घोषणा की है। जिसकी समय सीमा 17 मई तक है। लेकिन इसी बीच प्रवासी मजदूर दूसरे राज्यों में फंस गए। उन्होंने पैदल ही अपने गांव जाना शुरू कर दिया और इस बीच एक ऐसी ख़बर आई जिससे सबका दिल दहल गया।

बता दें कि महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेल हादसे में 16 प्रवासी मजदूर मारे गए हैं। ये सभी मध्य प्रदेश के रहने वाले थे। जिनमें से सभी 16 मृतकों की पहचान हो गई है। ये सभी 16 मजदूर सहडोल के रहने वाले हैं। ये सभी औरंगाबाद-जालना रेलवे लाइन पर ट्रैक के पास सो रहे थे। उसी दौरान इन मजदूरों के ऊपर से मालगाड़ी गुजर गई और इन सभी की जान चली गई। यह बताया जा रहा है मजदूर पटरी के किनारे-किनारे पैदल भुसावल की ओर जा रहे थे।

मृतकों की पूरी सूची

1. धनसिंग गोंड रा. अंतवली जी. सहडोल, राज्य – मध्य प्रदेश.2. निरवेश सिंग गोंड, अंतवली जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

3. बुद्धराज सिंग गोंड, रा. अंतवली जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

4. अच्छेलाल सिंग, चिल्हारी, मानपुर जी. उमरिया मध्य प्रदेश

5. रबेंन्द्र सिंग गोंड, रा. अंतवली जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

6. सुरेश सिंग कौल, जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

7. राजबोहरम पारस सिंग, रा. अंतवली, जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

8. धर्मेंद्रसिंग गोंड, रा. अंतवळी, जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

9. बिगेंद्र सिंग चैनसिंग, रा. ममाज, तहसील पाली, जी. उमरिया, मध्य प्रदेश

10. प्रदीप सिंग गोंड, रा. जमडी, तहसील पाली, जी. उमरिया, मध्य प्रदेश

11. संतोष नापित, अभी तक नहीं पता चल पाया है

12. ब्रिजेश भेयादीन रा. बहिरा इटोला, शहरगड चाटी, सहडोल.

13. मुनीमसिंग शिवरतन सिंग, रा. नेवासा, पोस्ट, बकेली तहसली पाली, जी. उमरिया.

14. श्रीदयाल सिंग रा. अंतवली जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

15. नेमशाह सिंग चमदु सिंग, रा. नेवासा, पोस्ट बकेली, जी. उमरिया.

16. दिपक सिंग अशोक सिंग गौड रा. अंतवली जी. सहडोल, मध्य प्रदेश

घायल व्यक्ति

1. सज्जनसिंग माखनसिंग धुर्वे रा. पोंडी ता जुनावणी जिल्हा मंडल खजेरी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मजदूरों से की ये अपील…

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से कहा गया है कि इस रेल हादसे में सभी घायलों का इलाज का खर्चा राज्य सरकार उठाएगी। सीएमओ की ओर से कहा गया है कि केंद्र से मजदूरों के घर वापसी के लिए केंद्र सरकार से बातचीत हो रही है। वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी मजदूरों से अपील करते हुए कहा है कि वे धैर्य नहीं खोएं। सीएम उद्धव ठाकरे ने हादसे में मरने वाले के परिवार को 5-5 लाख रुपये देने की घोषणा की है।

जानकारी के मुताबिक, करीब 45 किलोमीटर तक पैदल चलने के बाद सभी थक गए और ट्रैक पर ही आराम करने लगे। थकान की वजह से ज्यादातर लोगों को नींद आ गई और वह ट्रैक पर ही सो गए। इसी दौरान वहां से ट्रेन गुजरी और सभी लोग इसकी चपेट में आ गए। औरंगाबाद के एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि मारे गए सभी मजदूर भुसावन से स्पेशल ट्रेन के जरिए मध्य प्रदेश लौटना चाहते थे। ये सभी मजदूर मध्य प्रदेश के सहडोल के रहने वाले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *