india

घर जाने को भटकते प्रवासी मजदूर, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

लॉकडाउन में फंसे प्रवासी लगातार हादसे का शिकार हो रहे हैं। प्रवासी मजदूर अपने घर जाने के लिए भटक रहे हैं। मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर हजारों मजदूरों का हुजूम इकट्ठा हो गया है। दरअसल, आज बांद्रा स्टेशन से बिहार के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन रवाना होने वाली है। इस ट्रेन में यात्रा के लिए एक हजार मजदूरों का रजिस्ट्रेशन किया गया है, लेकिन स्टेशन हजारों की संख्या में लोग पहुंच गए। स्टेशन के बाहर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। पुलिस लोगों को घर जाने की अपील कर रही थी। अपना सामान लेकर महिलाओं और बच्चों के साथ बड़ी संख्या में मजदूर इकट्ठा हुए। पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए लाठीचार्ज किया। हालांकि, पुलिस सभी मजदूरों को घर भेजने की कार्रवाई कर रही है। साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।

बता दें कि इससे पहले भी 14 अप्रैल को मुंबई के बांद्रा रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई थी। ये सभी मजदूर घर जाने के लिए स्टेशन पर पहुंच गए थे। मजदूरों को उम्मीद थी लॉकडाउन (पहला चरण) खत्म हो जाएगा, लेकिन कोरोना के कहर के चलते पीएम नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाकर 3 मई कर दिया था।

मुंबई के बांद्रा में जुटी भीड़ के मामले में तीन एफआईआर दर्ज की गई थी। पहली एफआईआर में अपील के बावजूद नहीं हटने के आरोप में 1000 मजदूरों पर मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में पुलिस ने विनय दुबे नाम के शख्स को हिरासत में लिया था। लॉकडाउन के बीच विनय दुबे पर भीड़ को गुमराह करने का आरोप है। विनय दुबे ‘चलो घर की ओर’ कैंपेन चला रहा था। अपने फेसबुक पर शेयर किए गए पोस्ट में उसने टीम के बांद्रा में होने की बात कही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *