health

जल्द ही भारत में खत्म होगा CORONA का कहर, पतंजलि में दवा पर शोध हुआ पूरा

चीन के वूहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में ले चुका है। भारत में भी कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। देश में अब तक दो लाख 80 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं। वहीं, आठ हजार से ज्यादा लोगों की इससे मौत हो चुकी है। दुनिया के कई देश दिन-रात इसकी वैक्सीन बनाने में लगे हुए हैं। वहीं लंबे अरसे बाद योग गुरू रामदेव देव ने इस वायरस का सौ फीसदी तोड़ ढूंढने का दावा किया है। योग गुरू ने कहा है कि गिलोय और अश्वगंधा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में 100 फीसदी कारगर है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बाबा रामदेव ने कहा है कि पंतजंलि ने अपना शोध पूरा कर लिया है और जल्द ही इसे दुनिया के समक्ष रखा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा है कि जिन रोगियों को यह दोनों   तत्व दिए गए हैं वो 100 प्रतिशत ठीक हुए हैं। इस मीडिया रिपोर्ट में योग गुरू ने बताया है कि कोरोना वायरस शरीर में प्रवेश करने के बाद पूरी प्रतिरोधक प्रणाली को प्रभावित करता है। उन्होंने दावा किया कि गिलाए के सेवन से इस संक्रमण पूरी तरह ठीक हो जाता है।

बाबा रामदेव ने कहा कि आयुर्वेद में कोरोना वायरस का इलाज है। आयुर्वेद न केवल कोरोना वायरस के लक्षणों को समाप्त कर सकता है, बल्कि यह इस संक्रमण को जड़ से खत्म भी कर सकता है। गौरतलब है कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के वैज्ञानिकों के एक समूह ने एआईएसटी, जापान के साथ मिलकर किए गए एक शोध में यह भी पाया है कि आयुर्वेदिक जड़ी बूटी, अश्वगंधा में COVID-19 से लड़ने में मजबूत क्षमता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *