india

जानिए…जामिया गोलीकांड की पूरी कहानी, आखिर क्यों चलाई इस शख्स ने गोली

दिल्ली में नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हड़कंप मच गया। छात्रों का मार्च शुरू होने से पहले एक शख्स ने खुलेआम फायरिंग कर दी, इस दौरान एक छात्र घायल हो गया। दर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस खड़ी रही और एक शख्स आकर गोलीबारी करने लगा, हालांकि, बाद में पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

जामिया नगर इलाके में हुई इस गोलीबारी के बारे में चश्मदीद ने पूरी कहानी बताई। चश्मदीद के मुताबिक, ‘हम लोग राजघाट पर मार्च करने के लिए जा रहे थे। लेकिन यहां पर रुक गए। दिल्ली पुलिस ने परमिशन नहीं दी थी इसलिए हम बात करने गए थे।’

चश्मदीद ने आगे कहा कि एक शख्स उधर से निकला और उसने बंदूक लहरानी शुरू कर दी। वो चिल्ला रहा था कि किसे चाहिए आजादी…ये लो आजादी। जब उसने गोली चलाई तो एक शख्स के हाथ में लग गई है, किसी और को, कहीं और भी गोली लग सकती थी।

बता दें कि जानकारी के मुताबिक, फायरिंग करने वाले शख्स का नाम गोपाल बताया जा रहा है। जिसे दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस अब मामले की जांच कर रही है और हिरासत में लिए गए व्यक्ति से पूछताछ कर रही है। गोली चलने के वजह से जो शख्स घायल हुआ है, उसे पास के ही एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

गौरतलब है कि महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर प्रदर्शनकारियों ने आज जामिया से राजघाट तक मार्च निकालने की बात कही थी। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने इस मार्च की इजाजत नहीं दी थी। इसी वजह से प्रदर्शनकारियों और पुलिस के यहां पर आमने-सामने थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *