Home india जानिए...डोनाल्ड ट्रंप के दौरे के बीच दिल्ली में किसने करवाई हिंसा?

जानिए…डोनाल्ड ट्रंप के दौरे के बीच दिल्ली में किसने करवाई हिंसा?




देश के कई इलाकों में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर जमकर विरोध किया जा रहा है। इस विरोध ने अब हिंसा का रुप ले लिया है। जिसका खासा असर देश की राजधानी दिल्ली में देखने को मिल रहा है। इसी बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के दो दिवसीय दौरे पर हैं। जो गुजरात, दिल्ली और आगरा जाएंगे। लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि ट्रंप के भारत दौरे के बीच दिल्ली में इस तरह की हिंसा, तोड़फोड़, आगजनी किस ओर इशारा कर रही हैं?  कौन है इस इतनी बड़ी हिंसा के पीछे?

बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सीएए को लेकर सोमवार को जबरदस्त हिंसा हुई। इस हिंसा में दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल के जान गंवाने के बाद दो शख्स की मौत हो गई। दिल्ली के भजनपुरा इलाके में हुई हिंसा के दौरान यह शख्स घायल हुआ था। इससे पहले दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी। इस हिंसा में करीब 60 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान पुलिस कर्मियों पर किए गए पथराव में वह (रतन लाल) घायल हो गए थे। उन्होंने बताया कि लाल मूल रूप से राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे और 1998 में दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल के पद पर भर्ती हुए थे। उनके परिवार में पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है।

वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रतन लाल के निधन पर दुख जताया और राष्ट्रीय राजधानी में शांति का आह्वान किया। उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि पुलिस हेड कोंस्टेबल की मौत बेहद दुःखदायी है। वो भी हम सब में से एक थे। कृपया हिंसा त्याग दीजिए। इस से किसी का फ़ायदा नहीं। शांति से ही सभी समस्याओं का हल निकलेगा।

पुलिस ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा 144 लागू कर दी। मौजपुर में भारी पथराव हुआ जबकि जाफराबाद में प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया गया। मौजपुर और भजनपुरा में दुकानों और घरों में तोड़फोड करने के साथ ही आग लगा दी गई है। एक प्रदर्शनकारी को बंदूक हाथ में थामे पुलिसकर्मी की ओर बढ़ता हुआ देखा गया है। उसने हवा में कुछ राउंड फायरिंग भी की। अधिकारियों के अनुसार प्रदर्शनकारियों ने इलाके में लगी आग बुझाते समय दमकल की एक गाड़ी को भी नुकसान पहुंचाया।

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से संशोधित नागरिकता कानून के विरोध और समर्थन के दौरान उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कुछ हिस्सों में हिंसा के मद्देनजर कानून-व्यवस्था बहाल करने का अनुरोध किया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति-व्यवस्था में गड़बड़ी की बहुत परेशान करने वाली खबरें आ रही हैं। मैं माननीय उपराज्यपाल और केंद्रीय गृह मंत्री से शांति और सौहार्द्र सुनिश्चित करते हुए कानून-व्यवस्था बहाल किए जाने का अनुरोध करता हूं । किसी को भी माहौल खराब करने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए।’




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सरकार अब कोरोना वायरस के खिलाफ डिजिटल मोर्चे पर लड़ेगी लड़ाई

दुनिया भर में कोरोना वायरस ने तबाही मचाई हुई है। दुनिया का सबसे ताकतवर देश अमेरिका भी इसके आगे घुटने टेकता नज़र आ...

नर्सों के साथ अभद्रता मामले को लेकर बोले CM योगी आदित्यनाथ, कहा-‘हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं’

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने कड़े फैसलों के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल की नर्सों...

कोरोना वायरस: आखिर…अमेरिका ने ऐसी कौन-सी गलती कर दी, जिससे 2 लाख लोगों की हो सकती है मौत

दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमण लोगों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। दुनिया का सबसे ताकतवर कहा जाने वाला देश...

तबलीगी जमात मामले को लेकर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कही ये बड़ी बातें…तो फराह खान ने भी दी प्रतिक्रिया

देश भर में लॉकडाउन के बीच दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया...

Recent Comments