india

तबलीगी जमातियों को पकड़ने वालों को योगी सरकार देगी इतना बड़ा इनाम

कोरोना वायरस से संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। तबलीगी जमातियों ने सरकार की चिंता को दोगुना कर दिया है। सरकार की तमाम कोशिशों और अनुरोध के बाद भी तमाम तबलीगी जमाती आज भी छिपे हुए हैं। इन्हें ढूंढने के लिए पुलिस प्रशासन सख्ती बरत रहा है बावजूद इसके तबलीगी जमात में शामिल होने वाले लापता हैं। अब यूपी पुलिस ने तबलीगी जमातियों को ढूंढने के लिए नया तरीका निकाला है। वहीं, यूपी में जमातियों को पकड़ने के लिए सरकार ने इनाम की घोषणा की है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ जिले के पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि कोरोना वायरस के संदिग्ध तबलीगियों का सुराग देने वाले को पुलिस 5,000 रुपये नकद इनाम देगी। आपको बता दें कि भारत में अब तक आए कोरोना वायरस के कुल मामलों में एक बड़ी संख्या तबलीगी जमात से संबंध रखने वालों की है। जिसके चलते सरकार तबलीगी जमातियों से अनुरोध कर रही है कि वो सामने आए और अपनी जांच कराएं। बावजूद इसके तमाम तबलीगी जमाती आज भी गायब है।

यूपी पुलिस के अलावा उत्तराखंड पुलिस ने भी तबलीगियों के खिलाफ कुछ इसी तरह की सख्ती बरतने की कोशिश की है। उत्तराखंड पुलिस ने फरार चल रहे संदिग्ध तबलीगियों पर हत्या और हत्या की कोशिश का मुकदमा दर्ज करना शुरू कर दिया है। वहीं, हिमाचल प्रदेश पुलिस ने तबलीगियों और उन्हें शरण दिलाने वाले अमीर लोगों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करने का फैसला किया है। आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह का कहना है कि जिले में कई दिनों से तबलीगियों के छिपे होने की बातें सामने आ रही हैं। उन्होंने कहा कि थाने को एक भी संदिग्ध तबलीगी के बचकर न जाने देने की हिदायत दी गई है।

वहीं, पुलिस अधीक्षक का कहना है कि तबलीगी लोगों के बीच ही छिपे हैं। इसलिए जनता से मदद मांगने का फैसला किया गया। उन्होंने कहा कि इनामी राशि के असली हकदार का नाम तय करने की जिम्मेदारी जिला पुलिस अफसरों की कमेटी करेगी। अगर कोई पुलिसकर्मी ही तबलीगी जमात के लोगों को गिरफ्तार कर लेता है तो उसे भी इनाम में हकदार माना जाएगा। उन्होंने कहा कि, लोगों की ओर से सूचना आने भी लगी है।

उनका कहना है कि आजमगढ़ जिले में अभी तक पुलिस ने 38 तबलीगियों को पकड़ा है। इन सभी को क्‍वारंटीन कर दिया गया है। यह सभी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज से जुड़े थे। तीन तबलीगियों समेत कुल चार कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव लोगों में एक स्थानीय मौलाना भी शामिल है जिसने जमात के मरकज से आजमगढ़ पहुंचे जमातियों के साथ मीटिंग की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *