india

दिल्ली: जाफराबाद बना दूसरा शाहीन बाग, हजारों की संख्या में भीड़ जमा, जमकर हुई पत्थरबाजी

देश में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में करीब दो महीने से अधिक समय से प्रदर्शन चल रहा है और अब दिल्ली के जाफराबाद इलाके में भी लोग सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। जाफराबाद में प्रदशर्नकारियों ने यमुनापार में चार रोड बंद कर दिए हैं। जिसकी वजह से ईस्ट दिल्ली की सड़कें पूरी तरह से जाम हो गई हैं। शनिवार रात को महिलाओं ने जाफराबाद मुख्य रोड बंद किया था।

रविवार सुबह बड़ी मुश्किल से पुलिस ने मौजपुर से सीलमपुर जाने वाला मार्ग खुलवाया। दूसरा मार्ग अभी बंद है। रविवार सुबह चांद बाग के पास खजूरी से नंद नगरी की ओर जाने वाले वजीराबाद मार्ग को महिलाओ से बंद कर दिया। वहीं, खुरेजी में महिलाओं ने पटपड़गंज रोड के एक मार्ग को बंद कर दिया। यमुना विहार के नूर ए इलाही रोड को भी बंद कर दिया।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली के अलावा अलीगढ़ से बवाल की खबर आ रही है। प्रदर्शनकारियों को काबू में पाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी दागे हैं। दिल्ली के मौजपुर से पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ रही हैं। यहां पर लोग सीएए के विरोध में सड़क पर बैठे हुए हैं। जिसकी वजह से सड़कें जाम हो गई। जाफराबाद में मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क पर जोरदार प्रदर्शन हुआ। हजारों की संख्या में भीड़ जमा हुई। एक रास्ता पूरी तरह से बंद कर दिया।

वहीं, इस प्रदर्शन को लेकर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि जाफराबाद में अब स्टेज बनाया जा रहा है। एक और इलाका जहां अब भारत का कानून चलना बंद। सही कहा था मोदी जी ने शाहीन बाग एक प्रयोग था। उन्होंने कहा कि एक-एक करके सड़कों, गलियों, बाजारों, मोहल्लों को खोने के लिए तैयार रहिए। चुप रहिए, जब तक आपके दरवाजे तक ना आ जाएं, चुप रहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *