india

दिल्ली दंगा मामला: जानिए…ताहिर हुसैन ने कैसे रची दंगों की साजिश, हिंसा करने के लिए दिए थे करोड़ों रुपये

फरवरी के महीने में दिल्ली में हुए दंगों को लेकर क्राइम ब्रांच ने दूसरी चार्जशीट दाखिल की है। चार्जशीट के अनुसार, दंगों की जांच के दौरान बरामद वीडियो और फोटो के मुताबिक दंगाइयों ने उस पूरे इलाके में आगजनी की। ताहिर हुसैन भीड़ को लीड कर रहा था और भीड़ को दंगा करने के लिए निर्देश दे रहा था। ये वीडियो और फोटो दो अलग-अलग डीवीडी में क्राइम ब्रांच को बरामद हुए थे। ताहिर हुसैन ने पूछताछ में कबूल किया है कि वो दिल्ली में चल रहे एंटी सीएए प्रदर्शनकारियों के संपर्क में था। 8 जनवरी को वो यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के खालिद सैफ़ी और उमर खालिद से शाहीन बाग में मिला था। जहां उमर ख़ालिद ने उसे अमेरिकी राष्ट्रपति के भारत दौरे के दौरान कुछ बड़े/दंगों के लिए तैयार रहने के लिए कहा।

साथ ही यह भी कहा था कि उमर खालिद और पीएफआई मेंबर उसे इसके लिए आर्थिक रूप से मदद भी करेंगे। ताहिर हुसैन ने माना कि खालिद सैफ़ी ने उसे तैयारी के लिए कुछ फाइनेंस भी किया था। ताहिर हुसैन ने खुलासा किया कि उसने अपनी मालिकाना हक वाली कंपनियों के एकाउंट से करीब 1 करोड़ 10 लाख रुपये जनवरी के दूसरे हफ्ते में फर्जी कंपनियों में ट्रांसफर किए। उस पैसे को रोटेट करके कैश हासिल किया। फिर इसी पैसे से उसने दंगों की तैयारी शुरू की। साथ ही, सीएए के खिलाफ चल रहे प्रोटेस्ट को फाइनेंस किया। चार्जशीट में साफ लिखा है कि कैसे दिल्ली दंगों के आरोपी ताहिर हुसैन ने फर्जी कंपनियों की मदद से अकॉउंट में जमा 1 करोड़ 10 लाख रुपये कैश हासिल किया, जिन्हें दंगों और एन्टी सीसी प्रोटेस्ट में इस्तेमाल किया गया।

ताहिर हुसैन की दो कंपनियों की एकाउंट डिटेल्स दिखती हैं कि इफ़ेक्ट एडवरटाइजिंग प्राइवेट लिमिटेड और एसेंस सेलकॉम प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों के HDFC बैंक यमुना विहार की शाखा से 50200025468572 जो एसेंस सेलकॉम कंपनी का एकाउंट है। इससे 6 संदिग्ध RTGS ट्रांजेक्शन्स के जरिये 92 लाख रुपये 2 एकाउंट्स जिनके नंबर हैं 2598899207348 (मीनू फेब्रिकेशन) और 3734925602 (एसपी फाइनेंसियल सर्विसेज) में भेजे गए।

जिनमें 20 लाख रुपये 7 जनवरी को,  20 लाख रुपये और 12 लाख रुपये के 2 ट्रांजेक्शन 10 जनवरी को और फिर 10 लाख रुपये 13 जनवरी, 16 लाख और 14 लाख रुपये के 2 अन्य ट्रांजेक्शन 14 जनवरी 2020 को किये गए। जिसके बाद कुछ और संदिग्ध मनी ट्रांजेक्शन किये गए। एक और कंपनी शो इफ़ेक्ट के एकाउंट नंबर 50200023780784 से एक 20 लाख रुपये का संदिग्ध RTGS 8 जनवरी को एकाउंट नंबर 2559201050709 में किया गया जोकि युद्धवीर इंपेक्स कंपनी के अकॉउंट में भेजे गए। इस तरह से ताहिर हुसैन ने 1 करोड़ 10 लाख रुपये फर्जी कंपनियों में ट्रांजेक्शन करके दिल्ली दंगों में लगाने के लिए कैश हासिल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *