News

दिल्ली विधानसभा चुनाव: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्लीवासियों से पूछा ये सवाल

दिल्ली विधानसभा चुनाव अपने चरम पर है। राजनीतिक दल तमाम तरीकों से वोटबैंक अपनी ओर खींचने के लिए पूरी जी-जान झौंक रहे हैं। वहीं, आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति भी लगातार जारी है। इसी कड़ी में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के कई इलाकों में रोड शो किया। अमित शाह ने अपने रोड शो के दौरान विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। शाह ने कहा कि दिल्ली में पीएम मोदी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना-प्रदर्शन करने वाली, यह दिल्ली की जनता को तय करना है।

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली चुनाव में एक तरफ सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके पाकिस्तान के घर में घुसकर आतंकवादियों का सफाया करने वाले हैं तो दूसरी और वो लोग हैं जो शाहीन बाग का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि न 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगे, न नया स्कूल खुला और ना नए कॉलेज बन पाए। पीने को स्वच्छ पानी नहीं मिला और प्रदूषण नियंत्रण में भी दिल्ली सरकार विफल साबित हुई। सड़कों की हालत भी खराब है। एक हजार मोहल्ला क्लीनिक खोलना तो दूर, जो खुले हैं उनमें दवा है और ना सुविधा।

वहीं, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर दिल्ली सरकार को घेरा। नांगलोई, मंगोलपुरी और रोहिणी में नुक्कड़ सभाओं में उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार खत्म करने का झांसा देकर सत्ता पाने वाले केजरीवाल भले ही घोटाले भूल गए हों, लेकिन दिल्ली के लोगों को सब याद है। राशन और दवा घोटाला, ऑटो परमिट घोटाला, स्कूल के कमरे बनाने में घोटाला हुआ, पर मुख्यमंत्री ने कोई एक्शन नहीं लिया। दिल्ली जल बोर्ड का घोटाला, सीएनजी और इलेक्ट्रिक बस घोटाला, मार्शल भर्ती घोटाला दिल्ली की जनता अभी नहीं भूली है। पांच सालों तक केजरीवाल बच्चों की कसम खाकर ईमानदारी का ढोंग करते रहे और उनके रिश्तेदार करोड़ों के घोटालों में गिरफ्तार हुए। शाहीन बाग पर घेरते हुए कहा कि धरना की वजह से पूरी दिल्ली परेशान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *