india

दिल्ली हिंसा: उत्तर-पूर्वी दिल्ली में एक महीने के लिए धारा-144 लागू, हिंसा में मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में तीसरे दिन भी हिंसा जारी है। उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसक घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। वहीं, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में एक महीने के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है। सोमवार को सीएए को लेकर हुई हिंसा में जान गंवाने वाले सात लोगों में दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतनलाल शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया कि सोमवार तक हिंसा में जान गंवाने वालों की संख्या चार थी। मंगलवार को यह संख्या बढ़कर सात हो गई। वहीं, 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं।

उपद्रवियों मंगलवार सुबह कई गाड़ियों समेत 5 बाइकों और दुकानों में भी आग लगा दी। वहीं, दुकानों में तोड़फोड़ के अलावा लूटपाट की भी खबरें आई हैं। गोकलपुरी टायर मार्केट की 20 दुकानें जलकर राख हो गई हैं। बता दें कि सोमवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में काफी हिंसा हुई। इसके बाद दिल्ली में सात जगहों पर पथराव और आगजनी हुई।

वहीं, गृह मंत्रालय ने आंशका जताई है कि दिल्ली में हिंसा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के मद्देनजर करवाई गई है, ताकि जो इसमें शामिल हैं, वे व्यापक प्रचार हासिल कर सकें। इससे देश की छवि खराब होगी। दिल्ली पुलिस के अधिकारी गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हिंसा के मद्देनजर शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की और सुरक्षा-व्यवस्था का जायजा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *