Home News देखिए टीम इंडिया के चीफ सेलेक्टर की लिस्ट, रेस में सबसे आगे...

देखिए टीम इंडिया के चीफ सेलेक्टर की लिस्ट, रेस में सबसे आगे ये पूर्व गेंदबाज का नाम?




भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज अजित अगरकर राष्ट्रीय चयनकर्ता बनने की रेस में शामिल हो गए हैं। 42 साल के अगरकर चयन समिति के अध्यक्ष भी बन सकते हैं। मुंबई की सीनियर चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष अगरकर राष्ट्रीय चयन समिति के अध्यक्ष बनने की दौड़ में शामिल हैं, क्योंकि नए संविधान में क्षेत्रीय प्रणाली का प्रावधान नहीं है।

बीसीसीआई ने आवेदन भेजने की अंतिम तारीख 24 जनवरी तय की थी। अजित ने 26 टेस्ट, 191 वनडे और चार टी-20 अंतरराष्ट्रीय खेलकर कुल 349 विकेट लिए हैं। वनडे इंटरनेशनल में उनके नाम 288 विकेट हैं। वनडे में अगरकर (288) भारत के तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने हुए हैं। अनिल कुंबले (334 विकेट) और जवागल श्रीनाथ (315 विकेट) ही उनसे आगे हैं। अपने समय के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक अगरकर ने केवल 23 मैचों में 50 विकेट पूरे करने की उपलब्धि हासिल की थी। वैसे सबसे तेज 50 विकेट (19 मैचों में) लेने का वर्ल्ड रिकॉर्ड श्रीलंका के अजंथा मेंडिस के नाम है।




बीसीसीआई के एक अधिकारी का कहना है कि अजित का दौड़ में शामिल होना रोचक बात है। उन्होंने काफी सोच समझकर आवेदन किया होगा। अगर किसी को लगता है कि शिवा (लक्ष्मण शिवरामकृष्णन) का चयन समिति का अध्यक्ष तय है, तो उन्हें इस पर फिर से विचार करना होगा। यह देखना दिलचस्प होगा कि किन्हें चयनकर्ता चुना जाता है।

आवेदन करने वाले पूर्व क्रिकेटर:- अजित अगरकर (मुंबई), वेंकटेश प्रसाद (कर्नाटक), चेतन शर्मा (हरियाणा), नयन मोंगिया (बड़ौदा), लक्ष्मण शिवरामकृष्णन (तमिलनाडु), राजेश चौहान (मध्य प्रदेश), अमय खुरासिया (मध्य प्रदेश), उत्तर प्रदेश के ज्ञानेंद्र पांडे (योग्य नहीं क्योंकि जूनियर चयनकर्ता के रूप में चार साल पूरे कर चुके हैं), विदर्भ के प्रीतम गंधे (जूनियर राष्ट्रीय चयनकर्ता रह चुके हैं)




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जानिए….आखिर BJP प्रवक्ता संबित पात्रा पर क्यों भड़कीं दीया मिर्जा?

कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें 60 वर्ष के एक नागरिक की जान चली गई। मृतक की...

जल्द ही प्रियंका गांधी होंगी बेघर, जानिए…क्या है पूरा मामला?

केंद्र की मोदी सरकार चीन को आर्थिक मोर्चे पर झटके पर झटके दे रहा है। वहीं, एक झटका कांग्रेस की राष्ट्रीय ...

PM मोदी ने छोड़ा चीनी ऐप Weibo, ढाई लाख के करीब थे फॉलोअर

भारत और चीन के बीच स्थिति बेहद ही तनावपूर्ण है। मोदी सरकार चीन को आर्थिक मोर्चे पर झटके पर झटके दे रही है।...

मोदी सरकार ने चीन को दिया एक और जोरदार झटका, हाइवे प्रोजेक्ट्स में बैन होंगी चीनी कंपनियां

भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद देश में चीन के खिलाफ जमकर विरोध किया जा रहा है। हर कोई...

Recent Comments