Cricket

धोनी के बाद अब सुरेश रैना के संन्यास पर बोले PM, “आपके लिए ‘रिटायरमेंट’ शब्द का…”

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने का ऐलान किया था। जिसके कुछ देर बात सुरेश रैना ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कर दिया। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरेश रैना के लिए भी एक लंबा पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने रैना को युवा बताया। साथ ही उनकी बल्लेबाजी, फील्डिंग, कप्तानी और गेंदबाजी की भी तारीफ की। पीएम मोदी ने इस खत में सुरेश रैना की पत्नी प्रियंका चौधरी, बेटी ग्रेसिया और बेटे रियो का भी जिक्र किया है। उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान और महिला सशक्तिकरण में योगदान के लिए भी रैना की सराहना की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरेश रैना के लिए खत में लिखा, ”प्रिय सुरेश रैना, आपने अपने जीवन का सबसे कठिन फैसला लिया। मैं यहां रिटायर शब्द का प्रयोग नहीं करूंगा, क्योंकि अभी आप युवा और ऊर्जावान हैं। आप क्रिकेट के मैदान पर एक उपयोगी पारी खेलने के बाद जीवन की दूसरी पारी खेल रहे हैं। क्रिकेट में आपकी रुचि बहुत छोटी उम्र से मुरादनगर में शुरू हो गई थीं। इसके बाद लखनऊ के मैदान में आपने अपने कदम रखे। इसके बाद आपकी अहम यात्रा शुरू हुई, आपने भारत का प्रतिनिधित्व किया।”

पीएम ने आगे लिखा कि ”एक ऐसे देश का प्रतिनिधित्व किया, जिसे आप बेहद प्यार करते हैं। आप क्रिकेट के तीनों फॉर्मैट में खेले। आने वाली पीढ़ियां आपको केवल एक बल्लेबाज के रूप में ही नहीं बल्कि एक उपयोगी गेंदबाज और जब मौका मिला आपकी कप्तानी के लिए भी याद रखेंगी। मैदान पर आपकी फील्डिंग प्रेरणादायी रही। आपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुछ शानदार और यादगार कैच पकड़े। फील्डिंग से आपने कितने रन रोके, इसे गिनना आसान नहीं होगा।”

प्रधानमंत्री ने लिखा, ”बल्लेबाज के रूप में आपने हर फॉर्मैट में खासतौर पर टी-20 में खुद को सबसे अलग बनाया। यह कोई आसान फॉर्मैट नहीं है, लेकिन इसमें आपकी गति ऐसेट थी। भारत 2011 के विश्व कप में आपकी भूमिका को कभी नहीं भूल सकता। मैंने आपको मोटेरा स्टेडियम, अहमदाबाद में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वॉर्टर फाइनल में खेलते देखा। आपकी ठोस पारी ने भारत को जीत की एक बुनियाद दी। फैन्स आपके एलिगेंट कवर ड्राइवर मिस करेंगे। मैं भाग्यशाली हूं कि मैंने इन्हें लाइव देखा है।”

पीएम मोदी लिखा, ”खेल जगत से जुडे लोग मैदान पर और मैदान से बाहर आपके आचरण को पसंद करेंगे। आपकी लड़ाकू योग्यता युवाओं को प्रेरित करेगी। अपने करियर में आपको चोटों के अलावा भी कई झटके लगे, लेकिन आप हर बार इनसे उबर कर मैदान पर लौटे। सुरेश रैना को टीम स्प्रिट का पर्याय माना जाएगा। आप कभी निजी उपलब्धियों के लिए नहीं खेले, बल्कि भारत के गौरव के लिए खेले। मैदान पर आपका उत्साह देखने लायक था। विपक्षी टीम की पहली विकेट गिरने पर आप जिस तरह सेलिब्रेट करते थे, वह देखने लायक था।”

प्रधानमंत्री ने लिखा, ”समाज के प्रति आपका सेवाभाव अनेक सामुदायिक कार्यों में देखा गया। आपने महिला सशक्तिकरण के लिए भी काम किया। मुझे खुशी है कि तुम भारत की सांस्कृतिक जडों से जुड़े  हो। मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले समय में तुम जो भी करते हो वह भी उतना ही उपयोगी होगा। आप अपना समय अब प्रियंका, ग्रेसिया और रियो के साथ बिता पाएंगे। खेल जगत में आपके योगदान के लिए, युवाओं को प्रेरित करने के लिए आपका शुक्रिया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *