News

नवंबर में दोबारा कहर बरपाएगा Coronavirus, इतने लोगों की ले सकता है जान!

कोरोना वायरस ने दुनिया भर में तबाही मचाई हुई है। अब तक इस वायरस से संक्रमित 14 लाख लोगों की जान जा चुकी है। इससे मरने वालों को आंकड़ा प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना वायरस का प्रकोप भले ही अगले एक-दो महीने में कुछ धीमा हो जाए, लेकिन नवंबर में एक बार फिर इस जानलेवा महामारी का कहर दुनियाभर में दिखाई दे सकता है। यह चेतावनी चीन के एक शीर्ष मेडिकल विशेषज्ञ ने दी है। 

शंघाई में कोविड-19 चिकित्सा विशेषज्ञ टीम का नेतृत्व कर रहे झांग वेनहांग का मानना है कि सभी देशों को लंबे समय तक इस वायरस के बार-बार होने वाले प्रकोप के प्रति लचीला रवैया अपनाना होगा। हालांकि, झांगा ने उम्मीद जताई कि हो सकता है शीतकाल आने तक दुनिया भर के देश इस महामारी पर नियंत्रण पाने में सक्षम हो जाएं, लेकिन साथ ही उन्होंने चेताया कि शीत ऋतु में संक्रमण की दूसरी लहर का सामना चीन समेत दुनिया को करना पड़ सकता है।

चीन के एक टॉप एक्सपर्ट ने यह चेतावनी ऐसे वक्त पर दी है, जब करीब 3 महीने तक महामारी से लड़ने के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था चीन में हालात सामान्य हो रहे हैं। शंघाई में कोविड-19 की एक्सपर्ट टीम और शहर के सबसे बड़े अस्पतालों में संक्रामक बीमारी विभाग का नेतृत्व करने वाले झांग वेंहोंग ने उम्मीद जताई है कि लंबे वक्त तक देश में बार-बार उभरने वाली महामारी के प्रति लचीला रुख अपनाएंगे। उन्होंने कहा कि दुनियाभर के देश ठंड के मौसम में कोरोना वायरस की महामारी पर काफी हद तक नियंत्रण स्थापित कर लेंगे। लेकिन आने वाली सर्दी में चीन और कुछ दूसरे देशों को इस महामारी का दोबारा सामना कर पड़ सकता है।

बता दें कि झांग का ये स्टेटमेंट उस वक्त आया है, जब चीनी अधिकारी देश की अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने की कोशिश में लॉकडाउन के नियमों में ढील दे रहे हैं। चीन के नेशनल हेल्थ डिपार्टमेंट के जरिए सामने आई जानकारी के मुताबिक बुधवार तक देश में कोविड-19 मामलों की संख्या 82,341 तक पहुंच गई। इनमें वायरस की चपेट में आकर करीब 3,342 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, कोरोना वायरस संक्रमण का केंद्र रहे वुहान में मामले नहीं आ रहे हैं।

अब चीन में दर्ज होने वाले अधिकतर मामले उन चीनी नागरिकों के हैं, जो विदेश यात्रा कर लौट रहे हैं। चीन की पत्रिका सीयाशीन ने झांग के हवाले से लिखा है कि चीन में अब कोई लॉकडाउन लागू नहीं करेगा। चीन में अब बड़ी संख्या में विदेश से आने वाले नागरिकों में संक्रमण के मामले देखे जा सकते हैं।झांग ने कहा है कि लंबे वक्त के लिए महामारी को रोकने और संक्रमण पर काबू पाने के लिए प्रतिबंधों में ढील और सख्ती दोनों की पॉलिसी अपनानी होगी। लोग सामान्य जिंदगी की ओर लौटेंगे लेकिन वायरस का पूरी तरह से खात्मा अभी संभव नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *