india

निसर्ग चक्रवात का कहर, भारी तबाही, एक व्यक्ति की मौत

देश कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इसी बीच महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में बुधवार की दोपहर चक्रवात निसर्ग के टकराने के बाद अलीबाग के उमते गांव में बिजला का खंभा गिरने से एक 58 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। रायगढ़ के जिला कलेक्टर निधि चौधरी का कहना है कि इसके अलावा राज्य में कहीं और से हताहत की खबर नहीं आई है। चौधरी ने कहा कि “एक मौत अलीबाग से आई है। एक 58 वर्षीय व्यक्ति की अलीबाग के उमते गांव में बिजली का खंभा गरने से मौत हो गई। इसके अलावा जिले में किसी और कोई मौत की खबर नहीं आई है।”

निसर्ग चक्रवात के महाराष्ट्र के अलीबाग के पास रायगढ़ जिले में टकराने के चलते वहां तबाही का मंजर देखने को मिला। कई पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ कर जमीन पर गिर गए, जिसके चलते हजारों घरों में अंधेरा छा गया है जबकि एक व्यक्ति की मौत हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि 85 बड़े पेड़ गिरे हैं जिनमें कुछ ने लोगों के घरों को भी क्षतिग्रस्त किया है जबकि 11 बिजली के खंभे को भी नुकसान हुआ है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल ने कहा कि जैसे ही हवा की रफ्ताम कम होती है टीम नुकसान का आकलन करेगी।

मुंबई और ठाणे से उत्तर की ओर खिसकते चक्रवाती “निसर्ग” तूफान की स्थिति का जायजा लेने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य प्रशासन को परिचालन तत्परता बनाए रखने और तत्काल बचाव कार्य सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। इस बीच उपमुख्यमंत्री अजीत पवार भी विभिन्न जिलों के जिलाधिकारियों के संपर्क में हैं। वहीं, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि 120 किमी प्रति घंटे तक की रफ्तार वाली हवाओं के साथ बुधवार की दोपहर महाराष्ट्र के तट पर पहुंचा भीषण चक्रवात निसर्ग अब कमजोर पड़ने लगा है। मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्यंजय महापात्रा ने कहा कि चक्रवात ने दोपहर साढ़े बारह बजे अलीबाग में दस्तक देना शुरू किया और यह प्रक्रिया दोपहर ढाई बजे पूरी हो गई।

आईएमडी ने आगे कहा कि ”तूफान मुंबई से 75 किमी दक्षिण-पूर्व और पुणे के 65 किमी पश्चिम की दूरी पर है। यह कमजोर होने लगा है। हवा की रफ्तार अभी 90 से 100 किमी प्रति घंटा है तथा इसकी तीव्रता शाम तक और कम हो जाएगी। विभाग के बुलेटिन में कहा गया है कि तूफान शाम तक और कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में तब्दील में तब्दील हो जाएगा और देर रात तक हवा के कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *