भारतीय सेना ने इस तरह चीन के 500 सैनियों को दूर तक खदेड़ा, चीनी विदेश मंत्रालय ने घुसपैठ की बात को नकारा

भारत और चीन के बीच हालात बेहद तनावपूर्ण हैं। मई से जारी तनाव एक बार फिर देखने को मिला है। 29-30 अगस्त की रात को चीन की सेना ने ईस्टर्न लद्दाख के पैंगोंग इलाके में घुसपैठ की कोशिश की, जिसे भारत भारतीय सेना ने नाकाम कर दिया है। जानकारी के मुताबिक, करीब 500 चीनी सैनिक ने मौजूदा स्थिति को बदलने की कोशिश की थी।

सूत्रों के मिली जानकारी के मुताबिक, 29 अगस्त की रात को चीनी सेना के 500 जवानों ने हालात को बदलने की कोशिश की। यहां पर चीनी सैनिक कैंप लगाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन समय रहते ही भारतीय जवानों ने चीनी सेना की इस हरकत को पहचाना और इस कोशिश को नाकाम कर दिया। हालांकि, ये भी बात सामने आई है कि दोनों देशों के सैनिकों के बीच कोई झड़प नहीं हुई है।

घटना को लेकर चीन के विदेश मंत्रालय ने हालात से अलग बयान दिया है। चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से घुसपैठ मानने से इनकार कर दिया है। चीन की ओर से बयान दिया गया कि बॉर्डर पर मौजूद चीनी सैनिकों ने LAC को पार नहीं किया है, दोनों देशों के बीच इस मसले को लेकर बातचीत जारी है।

बता दें कि सोमवार की सुबह भारत सरकार की ओर से चीन बॉर्डर पर ताजा स्थिति को लेकर एक बयान जारी किया गया। बयान के मुताबिक, पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील के पास दोनों देशों के सैनिक 29-30 अगस्त की रात को आमने-सामने आए। चीनी सेना ने यहां पर घुसपैठ की कोशिश की, जिसे भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *