india

मंदिर मॉडल पर आधारित होगा राम नगरी अयोध्या का रेलवे स्टेशन, दिखने में ऐसा होगा स्टेशन

इस समय सभी की निगाहें धर्मनगरी अयोध्या पर टिकी हुई हैं। अयोध्या में भूमि पूजन को लेकर तैयारियां जोरों-शोरों पर हैं, तो वहीं राम नगरी के चहुमुखी विकास को लेकर भी तेजी से काम चल रहा है। इसी कड़ी में अयोध्या रेलवे स्टेशन का 104.77 करोड़ रुपए से विकास किया जाएगा। इसका काम शुरू हो चुका है। रेलवे स्टेशन, मंदिर मॉडल पर विकसित किया जाएगा। अयोध्या स्टेशन के भवन के लिए वित्तीय वर्ष 2017-18 में 80 करोड रुपये की स्वीकृति दी गई थी। इसे बढ़ाकर 104.77 करोड़ कर दिया गया है। इस स्टेशन भवन का निर्माण रेलवे की राइट्स (RITES) उपक्रम द्वारा किया जा रहा है।

भवन का निर्माण दो चरणों में होना है। पहले चरण में प्लेटफॉर्म संख्या 1 व 2/3 में विकास कार्य, वर्तमान सर्कुलेटिंग एरिया और होल्डिंग एरिया का विकास। दूसरे चरण में नए स्टेशन भवन और अन्य सुविधाओं का निर्माण कार्य। इन सुविधाओं के अन्तर्गत स्टेशन के अंदर और बाहर नवीनीकरण करते हुए स्टेशन पर उपलब्ध सुविधाओं को बढ़ाना, जैसे टिकट काउंटर की संख्या, प्रतीक्षालय सुविधा विस्तार, वातानुकूलित तीन विश्रामालय, 17 बेड वाली पुरुष और 10 बेड वाली महिला डोरमेट्री प्रसाधन सहित, एक अतिरिक्त फुट ओवर ब्रिज, फूड प्लाज़ा, दुकानें, अतिरिक्त शौचालय। इसके अलावा स्टेशन पर पर्यटक केंद्र, टैक्सी बूथ, शिशु विहार, वीआईपी लाउंज, सभागार और विशिष्ट अतिथि गृह समेत अनेक विकास कार्य। इनमें पहले चरण के कई काम हो भी चुके हैं।

उत्तर एवं उत्तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि भगवान राम की पावस चरणधूलि से सुशोभित अयोध्या की पवित्र नगरी का अलौकिक महत्त्व है। भविष्य में इस नगरी की महत्ता को ध्यान में रखते हुए मंडल द्वारा अयोध्या रेलवे स्टेशन का आधुनिकीकरण करते हुए एक नवीन स्वरूप प्रदान का काम चल रहा है। आने वाले समय में सम्पूर्ण विश्व को आकृष्ट करते हुए इस स्टेशन पर आवागमन करने वाले श्रृद्धालुओं और पर्यटकों को उच्च मानकों से सुसज्जित आधुनिक सुविधाएं मिलेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *