india

मुस्लिम नेता दी धमकी, “मस्जिद नहीं खुली तो सड़कों पर पढ़ेंगे नमाज”

देश में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन की घोषणा की थी। इस वजह से कई जगहों पर धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत नहीं दी जा रही है। मंदिर से लेकर मस्जिद तक बंद हैं। धार्मिक स्थलों के बंद होने पर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के सांसद इम्तियाज जलील ने सड़क पर नमाज पढ़ने की धमकी दी है।

AIMIM सांसद इम्तियाज जलील ने कहा कि ‘जब व्यवसाय, कारखाने, बाजार, हाइवे खोले गए हैं, यहां तक ​​कि बसें, ट्रेन और उड़ानें भी संचालित हो रही हैं, तो सरकार ने धार्मिक स्थल क्यों बंद किया है? राजस्व के लिए शराब की दुकानें भी खोल दी गई और सीमित लोग शादी-विवाह में शामिल हो सकते हैं। केवल धार्मिक स्थानों को क्यों बंद किया गया है?’

इम्तियाज जलील ने आगे कहा कि ‘हम आखिर कब तक इंतजार करेंगे? मैं उन तमाम हिंदुओं से अनुरोध करना चाहता हूं कि वह तमाम मंदिर और पूजा स्थल खुलवाने में लग जाएं। हम दो सितंबर को राज्य में स्थित तमाम मस्जिदों को खुलवाने का आह्वान करेंगे। सरकार अगर इजाजत दे तो ठीक नहीं तो हम सड़क पर नमाज़ पढ़ेंगे।’

AIMIM सांसद इम्तियाज जलील की धमकी पर बीजेपी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव के बेटे एनवी सुभाष ने कहा कि AIMIM द्वारा दिया गया अल्टीमेटम हास्यास्पद’ है। देश में कोरोना का कहर जारी है और राज्यों में अनलॉकिंग की प्रक्रिया चरणवार तरीके से चल रही है। बीजेपी नेता एनवी सुभाष ने कहा कि एक सांसद होने के नाते एमआईएम नेता को मुसलमानों को उकसाना नहीं चाहिए। अभी राष्ट्र को सामान्य स्थिति में आना बाकी है। महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे अधिक मामले हैं। बीजेपी नेता ने सांसद के खिलाफ मामला दर्ज करने की भी मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *