News

मौलाना का विवादित बयान, महिलाओं के कम कपड़े पहनने की वजह से फैल रहा Coronavirus

पूरी दुनिया कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रही है। लेकिन पाकिस्तान के एक मौलाना ने हद ही कर दी। मौलाना ने कोरोना वायरस महामारी के लिए महिलाएं जिम्‍मेदार हैं। उन्‍होंने कहा कि यह महामारी मानवता पर खतरा पैदा हो गई है क्‍योंकि महिलाएं बहुत से गलत काम कर रही हैं। यह बात और भी ज्‍यादा हैरान करने वाली है कि उन्‍होंने यह टिप्‍पणी प्रधानमंत्री इमरान खान की मौजूदगी में की और पीएम इमरान खान ने मौलाना को टोका तक नहीं। जिस कार्यक्रम में मौलाना यह बात कह रहे थे वह टीवी पर लाइव हो रहा था।

बता दें कि मौलाना तारिक जमील, प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ उसी कार्यक्रम में मौजूद थे जो फंड जुटाने के मकसद से आयोजित किया गया था। अहसास टेलीथॉन फंडरेजिंग इवेंट में तारीक बोलते रहे और इमरान बस उन्‍हें देखते रहे। मौलाना ने कहा कि ऐसी महिलाएं जो ‘अक्‍सर कम कपड़े पहनती हैं,’ उनकी वजह से ही आज देश में कोरोना वायरस जैसी महामारी फैल रही है। उन्‍होंने महिलाओं की आलोचना की और कहा कि उनका व्‍यवहार ही अक्‍सर देश पर ऐसी मुसीबतों को लेकर आता है। इस बात पर जब जमकर विवाद हुआ तो मौलाना जमील, मीडिया की ही आलोचना करने लगे। उन्‍होंने कहा कि उनकी टिप्‍पणी को मीडिया ने बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया। इसके बाद उन्‍होंने मीडिया से तो माफी मांग ली लेकिन महिलाओं पर अपनी भद्दी टिप्‍पणी के लिए माफी नहीं मांगी है। उनका कहना है कि ज्‍यादा बोलने की वजह से ऐसा हो गया था।

वहीं, पाक के मानवाधिकार आयोग ने महिलाओं के खिलाफ इस तरह की टिप्‍पणी करने की वजह से मौलाना की खिंचाई की है। कमीशन की तरफ से ट्वीट किया गया और लिखा गया कि कमीशन इस बात को लेकर अफसोस जताता है कि मौलाना तारिक जमील ने महिलाओं के सम्‍मान को कोविड-19 महामारी से जोड़ दिया है। इस तरह का ‘वस्‍तुकरण’ को स्‍वीकार नहीं है और टीवी पर इस तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम के ऑन एयर होने के बाद समाज में गलत संदेश जाता है।’ पाकिस्‍तानी मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, यह काफी शर्मनाक है कि मौलाना इस तरह की आक्रामक टिप्‍पणी कर रहे थे और उन्‍हें रोका भी नहीं गया। पाकिस्‍तान में कोरोना वायरस महामारी के बाद से महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा के केस में तेजी से इजाफा हुआ है। अब तक देश में महामारी के 11,940 केस हैं और 253 लोगों की मौत हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *