india

लॉकडाउन : निजामुद्दीन तबलीगी मरकज मामले को लेकर दिल्ली सरकार ने किया बड़ा खुलासा

कोरोना वायरस से बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में पूरे 21 दिनों के लिए लॉकडाउन किया है। तो वहीं, दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में स्थित तबलीगी मरकज से 24 लोगों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद देशभर में हड़कंप मच गया है। इस पूरे मामले पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बैठक ने बैठक की। जिसमें दिल्ली सरकार के कई मंत्री शामिल हुए।

स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने बताया कि संख्या निश्चित नहीं है, लेकिन यह अनुमान है कि 1500-1700 लोग मरकज बिल्डिंग में इकट्ठे हुए थे। 1033 लोगों को अब तक निकाला गया है। जिनमें से 334 को अस्पताल भेजा गया है और 700 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया है। सतेंद्र जैन ने कहा कि अब तक 24 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। यह बहुत बड़ा अपराध है। दिल्ली में पांच से अधिक लोगों के एक जगह इकट्ठा होने पर पाबंदी है। इसके बावजूद भी लोग इकट्ठे हुए। मैंने उप-राज्यपाल को एक्शन लेने के लिए पत्र लिखा है। दिल्ली सरकार ने एफआईआर दर्ज करने के भी आदेश दे दिए हैं।

बता दें कि दिल्ली में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए ज्यादातर लोग मलेशिया और इंडोनेशिया के नागरिक थे। ये लोग 27 फरवरी से 1 मार्च के बीच कुआलालंपुर में हुए इस्लामिक उपदेशकों के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद भारत आए थे।

क्या है मरकज तबलीगी जमात का मतलब

दरअसल, तबलीगी का मतलब अल्लाह की कही बातों का प्रचार करने वाला होता है। वहीं, जमात का मतलब होता है एक खास धार्मिक समूह। यानी धार्मिक लोगों की टोली, जो इस्लाम के बारे में लोगों को जानकारी देने के लिए निकलते हैं। मरकज का मतलब होता है बैठक या फिर इनके मिलने का केंद्र।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *