india

शरजील इमाम की बढ़ी मुश्किलें, जांच में हुए कई चौंकाने वाले खुलासे…

नागरिकता संसोधन कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में जोरदार विरोध-प्रदर्शन हुआ। इस प्रदर्शन ने धीरे-धीरे हिंसा का रुप ले लिया। पूर्वोत्तर राज्यों को देश से अलग कर देने की साजिश रचने वाला शरजील इमाम पुलिस की जांच में बड़ा दे’शद्रोही निकला। शरजील इमाम के खिलाफ पुलिस ने आ,तंकवाद निरोधक कानून UAPA के तहत भी मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने अपनी जांच में पाया है कि शरजील इमाम ने देश को बांटने की साजिश रची थी।

गौरतलब है कि बिहार के जहानाबाद के काको का रहने वाला शरजील इमाम तब चर्चा में आया था जब नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के बीच उसका वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में शरजील इमाम खुलेआम अपने लोगों से देश के पूर्वोत्तर राज्यों को भारत से अलग कर देने को कह रहा था। इसके बाद उसके खिलाफ देश के कई राज्यों में मुकदमा दर्ज हुआ था। मुकदमा दर्ज होने के बाद शरजील इमाम फरार हो गया था। उसे दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने बिहार के जहानाबाद के काको से गिरफ्तार किया था। शरजील इमाम बिहार प्रदेश जेडीयू के दिवंगत नेता का बेटा है। जेडीयू ने उसके पिता को विधानसभा चुनाव का टिकट भी दिया था।

देश को बांटने की साजिश रचने वाले शरजील इमाम के खिलाफ 5 राज्यों में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। लेकिन उसके खिलाफ जांच मुख्य रूप से दिल्ली पुलिस की क्राइन ब्रांच की टीम कर रही थी। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने कल उसके खिलाफ आ,तंकवाद निरोधक कानून UAPA के तहत मामला दर्ज किया है। इससे पहले दिल्ली के जामिया में हुई हिंसा के मामले में शरजील इमाम के खिलाफ चार्जशीट दायर की जा चुकी है।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने बताया कि शरजील की जांच पड़ताल में चौंकाने वाले तथ्यों का खुलासा हुआ है। उसके बड़े नेटवर्क का पता चला है जिसके सहारे शरजील इमाम देश को तोड़ने की साजिश तैयार कर रहा था। उसके फंडिग की भी जानकारी पुलिस को मिली है। उसकी भी जांच पड़ताल की जा रही है। पुलिस ने पहले ही शरजील इमाम के खिलाफ आईपीसी की धारा 124A (राजद्रोह) और 153A ( धर्म, भाषा, नस्ल वगैरह के आधार पर लोगों में नफरत फैलाना) के तहत मामला दर्ज किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *