india

शाहीन बाग में प्रदर्शन के मद्देनज़र रैपिड एक्शन फोर्स और BSF की गई तैनात

देश के कई इलाकों में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। बता दें कि दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ करीब 50 दिनों से ज्यादा समय से प्रदर्शन चल रहा है। शाहीन बाग का प्रदर्शन शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच शाहीन बाग और जामिया नगर इलाके से गोलीबारी की घटना भी सामने आ रही हैं। इन्हीं घटनाओं को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने शाहीन बाग सुरक्षा कड़ी कर दी है। इस इलाके में रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात कर दिया गया। वहीं, बीएसएफ के जवान भी शाहीन बाग पहुंचे हैं।

फोर्स की तैनाती एहतियात के तौर पर की गई है। यहां पिछले 50 दिन से नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि सरकार जब तक यह कानून वापस नहीं लेती, तब तक उनका प्रदर्शन जारी रहेगा। हाल के कुछ दिनों में यहां से गोलीबारी की भी खबरें भी हैं। पुलिस ने फायरिंग करने वालों को हिरासत में लिया है और आगे की जांच जारी है।

शाहीन बाग में दंगे के समय इस्तेमाल होने वाली मशीनरी को भी तैनात किया गया है। इसके अलावा अब ऐसी किसी भी घटना से बचने के लिए पुलिस ने वहां मेटल डिटेक्टर भी लगा दिया है। जामिया और शाहीन बाग में चार दिनों में हुई तीन फायरिंग की घटना ने देश की संसद को भी हिला दिया। गोलीकांड को लेकर पक्ष-विपक्ष में जमकर तकरार हुई। इसी वजह से दिल्ली पुलिस के आलाअधिकारी और मुस्तैद हो गए हैं। प्रदर्शन वाली जगहों के पास सुरक्षा और ज्यादा बढ़ा दी गई। दोनों तरफ मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं। सबकी तलाशी ली जा रही है, सामान भी चेक किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *