india

सीमा पर बढ़ते तनाव को देखते हुए BSF चीफ का बड़ा बयान, ‘भारत के खिलाफ साजिश रच रहे PAK और चीन’

भारत के पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान लगातार अपनी नापाक हरकतों को अंजाम दे रहे हैं। इसी को लेकर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक राकेश अस्थाना जम्मू-कश्मीर की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के अंतिम चरण में राजौरी और पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पहुंचे। यहां सीमा पर रक्षा में पहली पंक्ति में तौनात बलों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि चीन और पाकिस्तान हमारे खिलाफ योजना बना रहे हैं। हालांकि, सेना के पास 744 किलोमीटर लंबी एलओसी का परिचालन कमान है, लेकिन बीएसएफ को भी सहायता के लिए तैनात किया गया है।

आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि “रविवार को अपनी यात्रा के तीसरे दिन सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक राकेश अस्थाना ने पुंछ और राजौरी सेक्टर में विभिन्न जगहों का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया। उनके साथ एडीजी (डब्ल्यूसी) एसएस पंवार और आईजी बीएसएफ एनएस जामवाल भी थे। डीजी को रजौरी के डीआईजी आईडी सिंह और एलओसी पर तैनात फील्ड कमांडरों ने एलओसी पर ऑपरेशन की तैयारियों और ताजा हालात की जानकारी दी। वर्चस्व बनाए रखते हुए सैनिकों द्वारा अपनाए गए उपायों की सराहना करते हुए महानिदेशक ने सुरक्षा चुनौतियों को अधिक प्रभावी ढंग से पूरा करने पर जोर दिया।

सभी सुरक्षा बलों के बीच उत्कृष्ट तालमेल को देखते हुए महानिदेशक ने अनुशासन और व्यावसायिकता के उच्च स्तर को बनाए रखने के लिए सभी से अपील की। उन्होंने बीएसएफ पलौरा कैंप जम्मू में सैनिक सम्मेलन को भी संबोधित किया और कहा कि चूंकि पाकिस्तान और चीन भारत के खिलाफ योजना बना रहे थे, इसलिए सीमाओं की रक्षा में बीएसएफ की भूमिका अधिक महत्वपूर्ण हो गई।

प्रवक्ता ने महानिदेशक के हवाले से कहा, “यह सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण समय है, क्योंकि हमारे दोनों पड़ोसी देश हमारे खिलाफ योजना बना रहे हैं। इसलिए, हमारी भूमिका अब और महत्वपूर्ण हो गई है क्योंकि हम भारतीय रक्षा की पहली पंक्ति हैं।” उन्होंने बीएसएफ जवानों की सतर्कता की सराहना कि, जो सदैव देश की रक्षा में तैनात रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *