News

सुरेश रैना ने धोनी के खोले कई राज, जानकर हो जाएगे हैरान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर कई खिलाड़ियों ने गंभीर आरोप लगाए हैं। शांत स्वभाव की वजह से धोनी को कैप्टन कूल भी कहा जाता है। बड़े से बड़े मैच जीतने के बाद भी धोनी को कभी अति-उत्साह में जश्न मनाते हुए नहीं देखा गया। चाहे टी20 विश्व कप 2007 की बात हो या फिर विश्व कप 2011 की, वर्ल्ड चैंपियन बनने के बावजूद धोनी ने मैदान पर कोई उछल-कूद नहीं मचाई। आपने शायद ही कभी धोनी को मैदान पर उछल-कूदकर खुशियां मनाते हुए देखा होगा। हालांकि, धोनी के सबसे खास दोस्तों में एक सुरेश रैना ने उन लम्हों के बारे में बताया है जब धोनी खुशी से उछल पड़े थे।

सुरेश रैना ने बताया कि उन्हें वो लम्हा बहुत ही अच्छे से याद है जब आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाज यूसुफ पठान का विकेट मिलने के बाद खुशी से उछल पड़े थे। रैना ने आगे बताया कि उस मैच में यूसुफ पठान चेन्नई के गेंदबाजों की जमकर पिटाई कर रहे थे। पठान, चेन्नई के किसी भी गेंदबाज पर रहम नहीं कर रहे थे लगातार चौके-छक्के बरसाए जा रहे थे। यूसुफ की बैटिंग देखने के बाद खुद माही भी सहम गए थे। ऐसे में यूसुफ का विकेट लेना चेन्नई के लिए काफी जरूरी हो गया था।

सुरेश रैना ने बताया कि ये पूरा वाक्या आईपीएल के पहले सीजन की बात है, जो साल 2008 में खेला गया था। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ खेले जा रहे आईपीएल के पहले सीजन के फाइनल मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी विकेटकीपिंग के बजाए मैदान पर फील्डिंग कर रहे थे। यूसुफ पठान की धूआंधार बैटिंग को देखते हुए उनका विकेट चटकाना बहुत जरूरी हो गया था क्योंकि वे धोनी की टीम के लिए काफी बड़ी मुसीबतें खड़ी कर सकते थे।

उसी दौरान यूसुफ ने एक शॉट खेला, जिसे मैदान पर फील्डिंग कर रहे सुरेश रैना ने कैच कर लिया चेन्नई सुपरकिंग्स को आखिरकार उनके छुटकारा दिला दिया। यूसुफ का विकेट गिरने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी उत्साह खुशी में उछलकर झूम पड़े। हालांकि, राजस्थान रॉयल्स ने उस फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर आईपीएल का खिताब जीत लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *