india

हाथरस गैंगरेप: छावनी में तब्दील हाथरस, चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा, पीड़िता के गांव में विपक्ष, मीडिया सबकी एंट्री पर बैन

उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई गैंगरेप की शर्मनाक घटना को लेकर पूरे देश में घमासान मचा हुआ है। चारों ओर से पीड़िता को इंसाफ दिलाने, साथ ही आरोपियों को फांसी की सज़ा देने की मांग उठ रही है। लेकिन इस बीच स्थानीय प्रशासन की ओर से कई तरह की सख्ती बरती जा रही है। बता दें कि हाथरस जिले की सीमाएं सील कर दी गई हैं, साथ ही धारा 144 लगाई गई है। इसके अलावा प्रशासन ने मीडिया को गांव के अंदर जाने से रोक दिया है। साथ ही, किसी भी नेता को गांव में नहीं जाने दिया जा रहा है, खुद डीएम जाकर परिवार से धमकी भरे अंदाज में बात कर रहे हैं। जिसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।  

बता दें कि पहले गुरुवार को राहुल गांधी, प्रियंका गांधी को हाथरस जाने से रोका गया। अब शुक्रवार को टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन को रोका गया और उनके साथ बदसलूकी की गई। इतना ही नहीं अब पीड़िता के गांव में मीडिया की एंट्री पर भी रोक लगा दी गई है। लखनऊ में शुक्रवार को मामले को लेकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने प्रदर्शन किया। जिस पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इस दौरान कई कार्यकर्ताओं को चोटें भी आईं।

घटना को लेकर पुलिस का इस तरह का रवैया कई सवाल खड़ा करता है। कि आखिर पुलिस क्या छुपाना चाहती है? आखिर क्यों किसी को गांव में नहीं जाने दिया जा रहा है। हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार का एक वीडिया सामने आया, जिसमें वो पीड़िता के परिवार से बात कर रहे हैं। यहां डीएम परिवार से कह रहे हैं मीडिया आज है, कल चला जाएगा। आपको हमारे साथ रहना है, ऐसे में मदद स्वीकार कर लीजिए। साफ तौर पर डीएम परिवार को धमकाकर मामले को दबाने की कोशिश में जुटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *