india

1 जून (कल) से बदल जाएंगे ये 5 नियम, जानें क्या हैं ये नियम?

देश में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसके साथ ही सरकार लॉकडाउन का ऐलान भी कर रही है। फिलहाल देश में लॉकडाउन पार्ट 5 चल रहा है। जिसकी समय सीमा 30 जून तक है। लेकिन हम आपको बता दें कि आने वाले जून महीने से आपके जीवन में बहुत कुछ बदलने जा रहा है। जिसमें राशन कार्ड, रेल, रोडवेज, गैस सिलेंडर और फ्लाइट तक में बदलाव शामिल हैं। हम एक-एक करके इन बदलावों के बारे में आपको जानकारी देंगे। तो जानिए क्या हैं ये बदलाव?

1. 200 ट्रेनें होंगी शुरू: भारतीय रेलवे फिलहाल श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रहा है। 1 जून से रेल मंत्रालय ने 200 ट्रेनों को चलाने की घोषणा कर दी है। इन ट्रेनों के लिए रिजर्वेशन भी शुरू हो गए हैं। वहीं, रेलवे कुछ चुनिंदा स्टेशनों पर अपने टिकट काउंटर भी खोलने जा रहा है। अगर आप किसी शहर में फंस गए हैं तो फिर इन ट्रेनों के जरिए यात्रा कर सकते हैं। ये सभी ट्रेनें अपने टाइम टेबल के अनुसार पहले की तरह ही चलेंगी।

2. वन नेशन-वन कार्ड: देशभर में राशन कार्ड के लिए 1 जून से वन नेशन-वन कार्ड की योजना पूरी तरह से लागू हो जाएगी। फिलहाल ये स्कीम 20 राज्यों में शुरू होगी। इस स्कीम का ये फायदा कि राशन कार्ड किसी भी राज्य में बना हो, उसका राशन खरीदने के लिए उपयोग दूसरे राज्य में भी हो सकता है। इससे गरीबों को बहुत फायदा पहुंचेगा।

3. हवाई सेवा होगी शुरू: लो बजट एयरलाइन कंपनी गो एयर भी 1 जून से अपनी उड़ानों को शुरू करने जा रही है। अन्य कंपनियां 25 मई से इसकी शुरुआत कर चुकी हैं लेकिन गोएयर ने इसके लिए 1 तारीख का ऐलान पहले ही कर दिया था। हवाई यात्रियों को उड़ान में कई सारे नए नियमों का पालन करना पड़ेगा।

4. टैक्स में बदलाव: केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के कारण Income Tax Return दाखिल करने की तारीख आगे बढ़ा दी है और इसका फायदा सभी को होने वाला है। आप अगर इन दिनों तय समय पर Income Tax आयकर भरने की तैयारी कर रहे हैं तो एक बेहद ही जरूरी बात जान लें। दरअसल, CBDT यानि सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने एक फार्म में बड़ा बदलाव किया है और यह नया फार्म 1 जून से प्रभावी होगा। 26AS फार्म ऐसा फार्म है जो आयकर रिटर्न के लिए जरूरी होता है और यह आपका सालाना टैक्स स्टेटमेंट भी कहा जाता है।

5. बदलेंगे LPG के दाम: तेल कंपनियां हर माह की पहली तारीख को गैस सिलेंडर की कीमतों में बदलाव करती हैं। ऐसे में इस बार भी यह बदलाव होगा। कच्चा तेल फिलहाल 32 डॉलर प्रति बैरल के करीब है। हालांकि, लॉकडाउन के चलते कई राज्य सरकारें पहले ही पेट्रोल-डीजल पर वैट को बढ़ा चुकी हैं। वहीं, कुछ राज्य 1 जून से ही वैट बढ़ाने जा रहे हैं। हो सकता है कि इस बार गैस सिलेंडर की कीमत कम हो जाए, लेकिन वैट बढ़ने से आपको ज्यादा कीमत अदा करनी पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *