india

1 जून से रोजाना चलेंगी नॉन एसी ट्रेनें, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दी जानकारी

लॉकडाउन में फंसे लोगों को लिए भारतीय रेलवे सेवा की जल्द शुरुआत होने वाली है। रेल मंत्री पीयूष गोलय ने कहा है कि यात्रियों के लिए 1 जून से रोजाना 200 बिना एसी वाली रेलगाड़ियां चलाई जाएंगी और उनके लिए बुकिंग जल्द शुरू होने जा रही है। रेल मंत्री ने अपने ट्वीट संदेश के जरिए यह जानकारी दी है। रेलवे इसके अलावा प्रवासी श्रमिकों के लिए भी रेलगाड़ी की सेवाओं को बढ़ाने जा रहा है।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर लिखा कि “श्रमिकों के लिए बड़ी राहत, आज के दिन लगभग 200 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चल सकेंगी और आगे चलकर ये संख्या बड़े पैमाने पर बढ़ पाएगी। इसके अतिरिक्त भारतीय रेल 1 जून से टाइम टेबल के अनुसार प्रतिदिन 200 नॉन एसी ट्रेन चलाएगा, जिसकी ऑनलाइन बुकिंग शीघ्र ही शुरू होगी।” रेल मंत्री ने राज्यों से भी अनुरोध किया है कि श्रमिकों की सहायता करें और नजदीकी रेलवे स्टेशन में उन्हें पंजीकृत कराएं।

रेल मंत्री ने राज्यों से भी अनुरोध किया है कि श्रमिकों की सहायता करें और नजदीकी रेलवे स्टेशन में उन्हें पंजीकृत कराएं। रेल मंत्री ने ट्वीट में लिखा, “राज्य सरकारों से आग्रह है कि श्रमिकों की सहायता करे और उन्हें नजदीकी मेनलाइन स्टेशन के पास रजिस्टर कर, लिस्ट रेलवे को दे, जिससे रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाये। श्रमिकों से आग्रह है कि वो अपने स्थान पर रहें, बहुत जल्द भारतीय रेल उन्हें गंतव्य तक पहुंचा देगा।”

भारतीय रेल ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि रेलवे द्वारा निरंतर श्रमिक ट्रेनों का परिचालन जारी है। अब तक कुल 1600 ट्रेनों के माध्यम से लगभग 21.5 लाख श्रमिकों को उनके स्थानों तक पहुंचाया जा चुका है। श्रमिकों को बड़ी राहत देते हुए भारतीय रेल आज के दिन लगभग 200 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन करने जा रहा है। राज्य सरकारों से अनुरोध किया गया है कि जो श्रमिक रास्ते में हैं उन्हें राज्य सरकारें मेन लाइन रेलवे स्टेशन के नजदीक पंजीकृत करें एवं इसकी लिस्ट रेलवे को दें, जिससे कि श्रमिक स्पेशल ट्रेन द्वारा उन्हें उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जा सके।

इन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अतिरिक्त भारतीय रेल 1 जून से प्रतिदिन 200 अतिरिक्त टाइम टेबल ट्रेनें चलाने जा रहा है जो कि गैर वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी की ट्रेन होंगी एवं इन ट्रेनों की बुकिंग ऑनलाइन ही उपलब्ध होगी। ट्रेनों की सूचना शीघ्र ही उपलब्ध कराई जाएगी। भारतीय रेल अपील करती है कि श्रमिक धैर्य रखें एवं अपने स्थान पर ही रहें। भारतीय रेल द्वारा श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने हेतु पूरी व्यवस्था की जा रही है एवं इस हेतु भारतीय रेल द्वारा राज्य सरकारों से उचित समन्वय स्थापित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *