पीएम मोदी संसद में लगवाना चाहते हैं ये खास कैमरा, जो सांसदों की हरकत पर रखेंगे नजर

चेन्नई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चेन्नई में स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास ( IIT) पहुंचे। यहां उन्होंने संस्थान में छात्रों की ओर से तैयार अनुसंधानों को देखा। पीएम ने यहां छात्रों को संबोधित करते हुए कैमरा संबंधित नवोन्मेष को लेकर चुटकी ली। पीएम ने कहा कि कैमरे को लेकर नया प्रयोग रोचक है। इससे पता चलेगा की कौन ध्यान दे रहा है। पीएम की ये बात सुन वहां बैठे सभी छात्र ज़ोर-ज़ोर से हंसने लगे।

भाषण के दौरान एक वक्त ऐसा भी आया कि हॉल ठहाकों से गूंज गया। पीएम मोदी ने कहा, मेरे युवा दोस्तों ने आज काफी समाधान निकाले, जो मुझे सबसे अधिक पसंद आया। खास तौर पर मुझे कैमरा वाला आविष्कार काफी पसंद आया, जिससे यह पता लगाया जा सकता है कि कौन कितने ध्यान से सुन रहा। अब मैं इस पर स्पीकर से चर्चा करूंगा और अगर संसद में भी यह शुरू हो सके तो काफी लाभ होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे हैकेथॉन आसियान देशों के बीच भी होने चाहिए। मैं 36 घंटे से समस्याओं का हल खोजने में जुटे छात्रों की ऊर्जा को सलाम करता हूं। मोदी ने कहा कि कई बीमारियां जो अभी घातक नहीं है आने वाले समय में परेशानी खड़ी करेंगी। इनमें हाईपर टेंशन, टाइप-2 डायबिटीज सबसे ज्यादा होगी। जब आपकी टेक्नोलॉजी डेटा साइंस के साथ जुड़ेगी, तब इन समस्याओं का हल निकलेगा। मैं आपसे फिट इंडिया मूवमेंट में भागीदार बनने का आग्रह करता हूं। हमने देखा है कि दो तरह के लोग होते हैं।

पीएम मोदी ने कहा, मुझे आपकी आंखों में भारत का भविष्य नजर आ रहा है। जब यहां से बाहर निकलेंगे तो कई मौके आपका इंतजार कर रहे होंगे। अपने कौशल का इस्तेमाल करें। याद रखिए आप चाहे जहां भी हों, भारत माता को नहीं भूलिएगा। आपकी रिसर्च भारत के लोगों को कई फायदे पहुंचा सकती है। आपकी मेहनत असंभव को संभव बना देती है। पीएम मोदी ने सपॉर्ट स्टाफ के महत्व के बारे में छात्रों को बताते हुए कहा, ‘मैं इस बीच आपके आपके सपॉर्ट स्टाफ के योगदान को भी याद दिलाना चाहूंगा, वे लोग जो आपका खाना बनाते हैं, आपके रूम की सफाई करते हैं, क्लास की सफाई करते हैं, ये लोग आपकी सफलता में साइलैंट सहभागी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *