Categories
india Politics

दिल्ली: जश्न के माहौल के बीच आम आदमी पार्टी में छाया मातम, इस नेता की हुई हत्या

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद आम आदमी पार्टी में खुशी की लहर आ गई। नेता, कार्यकर्ता सब खुशी से झूम उठे। लेकिन ये खुशी किसी को नगार गुजरी और मातम में बदल गई। बता दें कि महरौली से नवनिर्वाचित आम आदमी पार्टी विधायक नरेश यादव के काफिले पर हमले से हड़कंप मचा हुआ है। इस हमले में गोली लगने से कार में मौजूद अशोक मान नाम के कार्यकर्ता की मौत हो गई और अन्य कार्यकर्ता हरेंद्र के पेट में गोली लगी, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

वहीं, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। पुलिस की मानें तो यह आपसी रंजिश है इसका राजनीति से कोई तालुल्क नहीं है। डीसीपी इंगित प्रताप सिंह के मुताबिक, हमले में एक ही शख्स शामिल था और उसके निशाने पर AAP विधायक नरेश यादव नहीं थे। हमलावर ने टारगेट करके अशोक मान पर हमला किया था, जिसकी मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक, हमला मंगलवार रात करीब 10:30 बजे हुआ। हमले की सूचना लोगों को AAP के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह के ट्वीट से मिली। उन्होंने लिखा था- महरौली के विधायक नरेश यादव के काफिले पर हमला। अशोक मान की सरेआम हत्या। ये है दिल्ली में कानून का राज। दरअसल, चुनाव जीतने के बाद नरेश यादव महरौली इलाके में स्थित बाबा लटूरिया मंदिर में दर्शन के लिए गए थे। लौटते समय वसंत कुंज के फोर्टिस हॉस्पिटल के पास उनके काफिले पर बाइक से आए एक युवक ने गोली चला दी। बताया जाता है कि वह ओपन कार में थे। फायरिंग में नरेश यादव तो बच गए, लेकिन कार में मौजूद अशोक मान को गोली लग गई। उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मान पर पहले से कई मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस जांच कर रही है कि हमलावर ने नरेश यादव को मारने के इरादे से हमला किया था या मान निशाना थे।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के बाद BJP प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिया इस्तीफा

दिल्ली विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। तो वहीं, बीजेपी के करारी हार का सामना करना पड़ा है। हार के बाद दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अपने इस्तीफे की पेशकश की है। दिल्ली जीतने के लिए बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। 200 से ज्यादा सांसद और बीजेपी के दर्जनों मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्रियों ने दिल्ली में डेरा डाला और जमकर हिंदुत्व का कार्ड खेलते हुए जनता से वोट अपील की। जिसके बाद भी दिल्ली में बीजेपी महज सात सीटों पर सिमट कर रह गई।

दिल्ली में 8 फरवरी को हुए मतदान के बाद आए एग्जिट पोल में आम आदमी प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाती दिख रही थी। इसके बाद भी मनोज तिवारी का दावा था कि सभी एग्जिट पोल फेल होंगे और दिल्ली में बीजेपी 48 सीटें जीत कर सरकार बनाएगी। तिवारी ने यहां तक कहा था कि सभी लोग मेरा ये ट्वीट संभाल कर रखें। तिवारी के इस बायन के बाद सभी असमंजस में थे कि क्या वाकई एग्जिट पोल को गलत साबित करते हुए बीजेपी दिल्ली की सत्ता में काबिज होने में कामयाब हो जाएगी।

हालांकि, 11 फरवरी को शुरुआती रुझानों में ही आम आदमी पार्टी की जीत साफ-साफ नजर आने लगी और श्याम होते-होते तस्वीर पूरी तरह साफ हो गई। आम आदमी पार्टी को 62 सीटों पर जीत हासिल कर ली। वहीं, बीजेपी महज 07 सीटों पर सिमट कर रह गई। बीजेपी की लाख कोशिशों के बाद भी दिल्ली में उनको जीत हासिल न हो सकी। अब इस हार की जिम्मेदारी लेते हुए दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अपने इस्तीफे की पेशकश की है।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव: सुनीता केजरीवाल ने AAP की जीत पर किया बड़ा खुलासा

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों में आम आदमी पार्टी एक बार फिर से दिल्ली में सरकार बन रही है। दिल्ली आम आदमी पार्टी के सभी बड़े नेताओं ने चुनाव में जीत दर्ज की है। वहीं, बीजेपी को एक बार फिर दिल्ली विधानसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा है। 22 साल से दिल्ली की सत्ता का सूखा झेल रही बीजेपी के लिए इस बार किसी चमत्कार की उम्मीद थी। क्योंकि पार्टी ने इस बार का चुनाव राष्ट्रीय मुद्दों पर लड़ा था। लेकिन पार्टी को निराशा ही हाथ लगी।

दिल्ली में आप की जीत पर अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और बच्चों का बयान सामने आया है। सुनीता केजरीवाल ने कहा कि हमने इतनी बड़ी जीत की उम्मीद नहीं की थी। अरविंद ने पांच साल मेहनत की थी, तभी लोग खुश थे। अरविंद ने जनता का विश्वास कमाया है। लोग कह रहे थे कि वो अरविंद को ही वोट देंगे। दिल्ली की जनता ने जवाब दे दिया। वहीं, सुनीता ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि ओछी चीजें लोगों को नहीं बोलनी चाहिए। हमें दिल्ली पर पूरा भरोसा था। जनता ने सच को जिता दिया। राजनीति मुद्दों पर होनी चाहिए।

अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता केजरीवाल ने भी आप की इस जीत पर खुशी जाहिर की। हर्षिता ने कहा कि जनता ने काम करने की वजह से वोट दिया। शिक्षा, बिजली, पानी, सीसीटीवी पर वोट दिया। पांच साल में हुए कामों को लोगों ने सराहा। सभी लोग बहुत खुश हैं। विपक्ष को पूरी तरह से जवाब मिल गया है। धर्म की राजनीति से अब वोट नहीं मिलेंगे। अरविंद केजरीवाल के बेटे पुलकित केजरीवाल ने कहा कि सब बहुत खुश हैं। दिल्ली की जनता ने बहुत अच्छा गिफ्ट दिया।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के बाद PM मोदी ने केजरीवाल से कहा- इस जीत…

दिल्ली विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने जबरदस्त जीत हासिल की। अरविंद केजरीवाल तीसरी दिल्ली में सरकार बनाएंगे। केजरीवाल की इस ऐतिहासिक जीत के लिए उन्हें चारों ओर बधाईयां दी जा रही है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अरविंद केजरीवाल को बधाई दी है। मंगलवार को पीएम मोदी ने ट्वीटर पर कहा कि AAP पार्टी और अरविंद केजरीवाल को दिल्ली विधानसभा चुनावों में जीत की बधाई। दिल्ली के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए उन्हें बहुत बहुत शुभकामनाएं।

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने संदेश में लिखा कि दिल्ली विधानसभा चुनावों में जीत हासिल करने के लिए मैं मुख्यमंत्री केजरीवाल एवं उनकी पार्टी को बधाई देता हूं। केजरीवाल ने राजनाथ सिंह को शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद भी दिया। बीजेपी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि बीजेपी इस जनादेश को स्वीकारते हुए रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी और दिल्ली के विकास से जुड़े हर मुद्दे को प्रमुखता से उठाएगी। जेपी नड्डा ने आगे लिखा, ‘इस विश्वास के साथ कि आम आदमी पार्टी की सरकार दिल्ली का विकास करेगी, मैं केजरीवाल और उनकी पार्टी को बधाई देता हूँ।’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी, पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता शरद पवार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के नेता अतुल अंजान, राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव, द्रविड़ मुनेत्र कषगम के नेता एम के स्टालिन, केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने भी केजरीवाल को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं और केजरीवाल ने उनको धन्यवाद कहा।

Categories
india News Politics

दिल्ली: चुनावी आंकड़े आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से कही ये बड़ी बातें…

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ऐतिहासिक जीत दर्ज करते हुए तीसरी बार दिल्ली में सरकार बनाने जा रही है। इस जीत के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने समर्थकों को शुक्रिया कहा। केजरीवाल ने कहा कि यह देश और दिल्लीवासियों की जीत है। अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि अब उसी पार्टी को जीत मिलेगी जो जनता के लिए काम करेगा। जो 24 घंटे अच्छी बिजली देगा, स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करेगा। जनता को धन्यवाद बोलने के बाद अरविंद केजरीवाल ने हनुमान जी को भी शुक्रिया कहा।

चुनावी आंतकड़े आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं दिल्ली की जनता का तहे दिल से शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने मेरे ऊपर भरोसा जताया। ये सिर्फ आम आदमी पार्टी की जीत नहीं है, ये सभी दिल्लीवासियों की जीत है। ये दिल्ली के हर उस परिवार की जीत है जिसने मुझे अपना बेटा समझा। जिन्होंने मुझे अपना बेटा मानकर जबर्दस्त समर्थन दिया। दिल्ली वालों आपने गजब कर दिया आई लव यू। हालांकि जीत की इस जश्न में मनीष सिसोदिया कहीं नजर नहीं आए। संजय सिंह और गोपाल राय मंच पर अरविंद केजरीवाल के साथ थे लेकिन सिसोदिया वहां नहीं दिखे।

अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि ये हर उस परिवार की जीत है जिसे 24 घंटे बिजली मिलने लगी है। ये हर उस परिवार की जीत है जिसे अस्पतालों में अच्छा इलाज मिलने लगा है, ये हर उस परिवार की जीत है जिसे अच्छी शिक्षा मिलने लगी है। दिल्ली के लोगों ने आज देश में एक नई किस्म की राजनीति को जन्म दिया है जिसका नाम है काम की राजनीति। दिल्ली के लोगों ने संदेश दिया कि वोट उसी को जो स्कूल बनवाएगा। दिल्ली के लोगों ने संदेश दिया कि वोट उसी को जो मोहल्ला क्लिनिक बनवाएगा। वोट उसी को जो 24 घंटे बिजली देगा। वोट उसी को सस्ती बिजली देगा, अच्छी शिक्षा देगा, स्कूल बनवाएगा। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यही राजनीति देश को 21वीं सदी में ले जाएगी।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव: पूर्ण बहुमत के बाद भी AAP की जीत अधूरी!, AAP के लिए आई बुरी ख़बर

दिल्ली विधानसभा चुनावों में जैसे-जैसे मतगणना आगे बढ़ रही है। वैसे-वैसे जश्न और हार का दुख भी खूब देखने को मिल रहा है। दिल्ली की सातवीं विधानसभा की तस्वीर स्पष्ट होती जा रही है। शुरुआती रुझानी और एग्जिट पोल लगभग-लगभग समान ही नजर आ रहे हैं। यह स्पष्ट हो चुका है कि दिल्ली की जनता ने तीसरी बार केजरीवाल को मुख्यमंत्री बनने का जनादेश दिया है। लोगों को अब इंतजार अंतिम परिणामों का है। ऐसे में हम आपको उन सीटों का ताजा हाल बता रहे हैं जहां से केजरीवाल मंत्रिमंडल के चेहरे चुनावी मैदान में उतरे थे।

नई दिल्ली विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक बार फिर मैदान में थे। केजरीवाल के खिलाफ बीजेपी से सुनील यादव और कांग्रेस से रोमेश सबरवाल किस्मत आजमा रहे थे। नई दिल्ली में केजरीवाल को टक्कर देने के लिए कुल 27 उम्मीदवार उतरे थे। पांच राउंड की गिनती के बाद अरविंद केजरीवाल को कुल 17756 वोट मिले जबकि उनके नजदीकी उम्मीदवार सुनील यादव को 7941 वोट ही मिले।

पटपड़गंज सीट से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया तीसरी बार चुनाव मैदान में थे। यहां से बीजेपी के रविन्द्र सिंह नेगी और कांग्रेस से लक्ष्मण रावत मैदान में थे। शुरुआती रुझानों में मनीष सिसोदिया बढ़त बनाए हुए थे लेकिन बीजेपी उम्मीदवार उन्हें कड़ी टक्कर देते नजर आ रहे हैं। 7 राउंड की गिनती के बाद मनीष सिसोदिया को 34222 वोट मिले जबकि रविन्द्र नेगी को 35081 वोट मिले। सिसोदिया इस सीट पर काफी लंबे समय से पीछे ही चल रहे हैं।

Categories
india News

दिल्ली की तरह अब इस राज्य में भी जनता को मिलेगी “फ्री बिजली” की सुविधा

दिल्ली विधानसभा चुनाव से छह महीने पहले दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने लोगों को शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी, वाईफाई, बसों में महिलाओं के लिए फ्री सेवा जैसी योजनाएं चलाईं। और शायद इन्हीं मुद्दों के कारण आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव बहुमत का आंकड़ा पार करती दिखाई दे रही है। लेकिन दिल्ली सरकार की तर्जद पर पश्चिम बंगाल की सरकार ने भी मुफ्त जनता को मुफ्त बिजली देने की घोषणा की है।

बता दें कि ममता सरकार ने अपने फैसले में कहा है कि तीन महीने में 75 यूनिट बिजली खपत करने वालों से बिल नहीं लिया जाएगा। दिल्ली की केजरीवाल सरकार लोगों को 200 यूनिट तक फ्री बिजली दे रही है। ममता सरकार ने अपना बजट विधानसभा में पेश किया है। 2,55,677 करोड़ रुपए के बजट की घोषणा की है। राज्य के वित्त मंत्री ने अपने भाषण में कहा पश्चिम बंगाल के बजट में अगले तीन साल में 100 लघु एवं मझोले उद्योग पार्क बनाने का प्रस्ताव है। 2020-21 के लिए इस मद में 200 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है।

झारखंड सरकार भी दिल्ली की तरह झारखंड में घरेलू उपयोग के लिए फ्री बिजली देने की तैयारी शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर ऊर्जा विभाग 100 यूनिट फ्री बिजली का प्रस्ताव तैयार कर रहा है। यह झारखंड मुक्ति मोर्चा की घोषणा में शामिल है।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव: शुरुआती रुझान में AAP को बढ़त, BJP को मिली पहले से ज्यादा सीटें

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना शुरू हो चुकी है। अभी पोस्टल बैलेट की गिनती हो रही है। शुरुआती रुझान में आम आदमी पार्टी को बढ़त हासिल है और बीजेपी पिछले चुनाव के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन कर रही है। कांग्रेस को अभी किसी भी सीट से बढ़त मिलती नहीं दिख रही है।

शुरुआती रुझानों के मुताबिक, वैसे प्रत्याशी जिन्होंने पार्टी बदली है उन्हें वोटर्स के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है। कांग्रेस प्रत्याशी अलका लांबा चांदनी चौक विधानसभा सीट से पीछे चल रही हैं। जबकि मनीष सिसौदिया पटपड़गंज से आगे चल रहे हैं। राजेंद्र नजर सीट से आप उम्मीदवार राघव चड्डा आगे चल रहे हैं। लगभग सभी मुस्लिम बहुल सीटों पर आम आदमी पार्टी ने बढ़त बना ली है। चांदनी चौक सीट से आप के प्रह्लाद साहनी आगे चल रहे हैं।

आरके पुरम से आप उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। कालकाजी सीट से आप उम्मीदवार आतिशी आगे चल रहीं हैं। वहीं, नयी दिल्ली सीट से अरविंद केजरीवाल आगे चल रहे हैं। कृष्णा नगर से बीजेपी के अनिल गोयल आगे चल रहे हैं, द्वारका से बीजेपी के उम्मीदवार प्रद्युम्न बढ़त बनाए हुए हैं। मॉडल टाउन से बीजेपी उम्मीदवार कपिल मिश्रा पीछे चल रहे हैं। गांधीनगर से आप के नवीन चौधरी आगे चल रहे हैं।

ओखला से आम आदमी पार्टी के अमानतुल्ला खान आगे चल रहे हैं। वहीं, विश्वास नगर से बीजेपी के ओपी शर्मा आगे चल रहे हैं। बल्लीमारान सीट से आप के इमरान हुसैन आगे चल रहे हैं, हरिनगर से बीजेपी उम्मीदवार बग्गा पीछे चल रहे हैं। जनकपुरी से भाजपा के आशीष सूद आगे चल रहे हैं। तिमारपुर से आप उम्मीदवार दिलीप पांडे से पीछे चल रहे हैं, यहां से भाजपा के सुरिंदर बिट्टू आगे चल रहे हैं।

Categories
india News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव: CM केजरीवाल ने दिल्ली की महिलाओं के लिए किया ये खास ट्वीट…

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मतदान से ठीक पहले अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर ट्वीट किया है। केजरीवाल ने लिखा कि वोट डालने ज़रूर जाइये, सभी महिलाओं से ख़ास अपील- जैसे आप घर की ज़िम्मेदारी उठाती हैं, वैसे ही मुल्क और दिल्ली की ज़िम्मेदारी भी आपके कंधों पर है। आप सभी महिलायें वोट डालने ज़रूर जायें और अपने घर के पुरुषों को भी ले जायें। पुरुषों से चर्चा ज़रूर करें कि किसे वोट देना सही रहेगा।

वहीं, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी मतदान शुरू होने से पहले मतदाताओं को संदेश दिया है। अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि लोकतंत्र के महापर्व पर सभी दिल्लीवासियों को शुभकामनाएं! आज सच्चे मन से अपने बच्चों की अच्छी शिक्षा के लिए वोट करें. झाड़ू पर वोट करें। बताते दें कि मतदान की पूर्व संध्या के दिल्ली के मुख्यमंत्री व नई दिल्ली से AAP उम्मीदवार अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस के हनुमान मंदिर परिवार सहित दर्शन करने पहुंचे।

इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री के साथ उनकी पत्नी सुनीता भी थीं। अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, CP के प्राचीन हनुमान मंदिर जाकर हनुमान जी का आशीर्वाद लिया। देश और दिल्ली की तरक़्क़ी के लिए प्रार्थना की। भगवान जी ने कहा-‘अच्छा काम कर रहे हो, इसी तरह लोगों की सेवा करते रहो। फल मुझ पर छोड़ दो। सब अच्छा होगा।’

आपको बता दें कि दिल्ली में शनिवार को मतदान किए जा रहे हैं और 11 फरवरी को नतीजों की घोषणा की जाएगी। दिल्ली में कुल 70 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 13,000 से अधिक मतदान केंद्र बनाए गए हैं। मतदान शाम छह बजे तक चलेगा।

Categories
News Politics

दिल्ली विधानसभा चुनाव से एक दिन पहले अरविंद केजरीवाल को लगा बड़ा झटका

दिल्ली विधानसभा चुनाव होने में चंद ही घंटे बाकी रह गए हैं। लेकिन चुनाव से ठीक पहले सीएम अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ट्विटर पर एक वीडियो अपलोड करना महंगा पड़ गया है। चुनाव आयोग ने इस वीडियो को लेकर केजरीवाल को नोटिस जारी किया है। चुनाव आयोग ने कहा कि यह आचार संहिता का उल्लंघन है और केजरीवाल से कल यानि शनिवार की शाम पांच बजे तक जवाब देने को कहा है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने चुनाव प्रचार बंद होने के एक दिन बाद कनॉट प्लेस के हनुमान मंदिर प्रार्थना की। जबकि दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कालका मंदिर जाकर पूजा अर्चना की। गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए सभी 70 सीटों पर वोटिंग शनिवार को होने जा रही है। दिल्ली के चुनाव में मुख्य तौर पर आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और बीजेपी के बीच सीधा मुकाबला है। ऐसे में सभी दलों की तरफ से लगातार जीत के दावे किए गए हैं और अब सबकी निगाहें आठ फरवरी की वोटिंग पर है।

दिल्ली चुनाव में 1,47,86,382 लोगों को मतदान का अधिकार है जिनमें से 2,32,815 मतदाता 18 से 19 साल के आयुवर्ग के हैं। चुनाव के लिए तीन सप्ताह से अधिक समय तक चला तूफानी प्रचार गुरुवार (6 फरवरी) को शाम छह बजे थम गया। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए 672 उम्मीदवार मैदान में हैं। विशेष पुलिस आयुक्त (आसूचना) प्रवीर रंजन ने बताया कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 190 कंपनियों को सुरक्षा कारणों से तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि जहां तक संवेदनशील मतदान केंद्रों की बात है तो 516 जगहों पर 3704 बूथ इस श्रेणी में आते हैं।