india

CAA-NRC के खिलाफ 15 अगस्त से दोबारा शुरू होगा आंदोलन!

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मुस्लिम समुदाय के लोगों ने देश के कई हिस्सों में जमकर विरोध-प्रदर्शन किया। जिसकी बड़ी कीमत देश की राजधानी दिल्ली को चुकानी पड़ी थी। मार्च के अंतिम सप्ताह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन की घोषणा की थी। जिसके कारण ये प्रदर्शन रुक गया था। लेकिन ख़बरों के मुताबिक, मुस्लिम समुदाय दोबारा इस प्रदर्शन को शुरू करने की तैयारी में है।

सुप्रीम कोर्ट के वकील महमूद प्राचा ने कहा कि आंदोलन की तैयारी हम शुरू कर रहे हैं। 15 अगस्त के बाद आंदोलन किया जाएगा। प्राचा ने कहा कि अब कोरोना और लॉकडाउन एक स्टेज पर पहुंच चुका है, जिसके कारण हम अपना आंदोलन शुरू कर सकते हैं। यूपी में योगी सरकार के प्रतिबंध के फैसले पर प्राचा ने कहा कि धार्मिक आयोजन पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला मान्य होगा। जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले से जगन्नाथपुरी यात्रा हो सकता है तो, मुहर्रम का गाइडलाइन भी उसी के अनुसार होना चाहिए।


बता दें कि सीएए और एनआरसी का मामला अब सुप्रीम कोर्ट में चला गया है। सुप्रीम कोर्ट में इस पर सुनवाई भी हुई, लेकिन कोरोना के कारण अभी इसपर रोक है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सभी पक्षों को जवाब देने के लिए कहा कहा है। इस मामले में जल्द ही कोर्ट भी सुनवाई शुरू कर सकती है। संसद में सीएए-एनआरसी बिल पास होने के बाद ही शाहीन बाग में इसके खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गया था। सड़कों पर महिलाएं प्रदर्शन कर रही थी, जिसके खिलाफ कोर्ट में याचिका दायर किया गया था। हालांकि, कोर्ट ने इस मसले पर वार्ताकार नियुक्त कर धरना खत्म करवाने की पहल किया था, लेकिन कोर्ट की यह कोशिश भी विफल हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *