Home india CORONA: अंतिम संस्कार के लिए जा रही एंबुलेंस का रास्ता रोकने पर...

CORONA: अंतिम संस्कार के लिए जा रही एंबुलेंस का रास्ता रोकने पर कांग्रेस नेता समेत इतने लोगों पर केस दर्ज

सरकार ने कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन लागू किया है। साथ ही लोगों को कुछ नियमों का पालन करने के लिए भी कहा गया है। जैसे:- बार-बार साबुन से हाथों को धौना, सोशल डिस्टेंशिंग का ख्याल रखना आदि। साथ ही अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोगों के इकट्ठे होने पर भी पाबंदी है। लेकिन हिमाचल प्रदेश पुलिस ने कांग्रेस की एक महिला नेता, तीन पार्षदों और 16 अन्य लोगों पर Covid-19 मरीज के अंतिम संस्कार में बाधा डालने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। इन पर महामारी रोग एक्ट का उल्लंघन करने के आरोप लगाए गए हैं।

कांग्रेस नेता की पहचान मंडी जिला महिला कांग्रेस प्रमुख सुमन चौधरी के तौर पर हुई है। सुमन चौधरी के साथ तीन पार्षदों और 16 अन्य के खिलाफ IPC की कई धाराओं के तहत भी आरोप हैं। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सुमन चौधरी और अन्य ने सड़क पर आकर एम्बुलेंस के रास्ते को रोक दिया। उस वक्त Covid-19 बीमारी से दम तोड़ने वाली एक महिला के शव को अंतिम संस्कार के लिए एम्बुलेंस से ले जाया जा रहा था। रास्ता ब्लॉक करने वाले अधिकतर लोग कंसा और तन्वा गांवों के रहने वाले थे। सुमन चौधरी के दोहरे मानदंडों को लेकर जहां सवाल उठ रहे हैं, वहीं इस तरह के बर्ताव ने प्रदेश कांग्रेस के लिए दिक्कत बढ़ाई है।

महिला कांग्रेस नेता ने एक ओर सोशल मीडिया हैंडल पर ‘कोरोना वॉरियर्स’ के लिए चिंता जताते हुए कहा था- “कोरोना को हराना है, मानवता को बचाना है।” वहीं दूसरी तरफ एक ऐसी महिला के शव को ले जा रही एम्बुलेंस का रास्ता रोका जिसकी मौत कोरोना वायरस से हुई। मंडी के श्री लाल बहादुर शास्त्री सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल, नरचौक में सोमवार को 63 वर्षीय महिला की मौत हुई थी। महिला के शव को मंगलवार को पैतृक आवास ले जाया जा रहा था। तभी रास्ते में कांग्रेस नेता और उनके समर्थकों ने हंगामा किया।

बता दें कि इससे पहले भी हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में एक युवक की बिलासपुर में संस्थागत क्वारनटीन में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। तब राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों पर ऐसे आरोप लगे थे कि कोरोना वायरस मरीजों के साथ इलाज के दौरान ठीक बर्ताव नहीं किया जा रहा। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कुछ अधिकारियों के बर्ताव को गंभीरता से लिया है और जांच के आदेश दिए। बिलासपुर में कुछ अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जानिए….आखिर BJP प्रवक्ता संबित पात्रा पर क्यों भड़कीं दीया मिर्जा?

कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें 60 वर्ष के एक नागरिक की जान चली गई। मृतक की...

जल्द ही प्रियंका गांधी होंगी बेघर, जानिए…क्या है पूरा मामला?

केंद्र की मोदी सरकार चीन को आर्थिक मोर्चे पर झटके पर झटके दे रहा है। वहीं, एक झटका कांग्रेस की राष्ट्रीय ...

PM मोदी ने छोड़ा चीनी ऐप Weibo, ढाई लाख के करीब थे फॉलोअर

भारत और चीन के बीच स्थिति बेहद ही तनावपूर्ण है। मोदी सरकार चीन को आर्थिक मोर्चे पर झटके पर झटके दे रही है।...

मोदी सरकार ने चीन को दिया एक और जोरदार झटका, हाइवे प्रोजेक्ट्स में बैन होंगी चीनी कंपनियां

भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद देश में चीन के खिलाफ जमकर विरोध किया जा रहा है। हर कोई...

Recent Comments