News

PAK ने काल्पनिक नक्शा किया पेश, NSA को आया गुस्सा, बीच में छोड़ी SCO की मीटिंग

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहता है। पाकिस्तान की ओर एक साल में 176 बार घुसपैठ की कोशिश की गई। जिसकी भारतीय सेना ने करारा जवाब दिया। वहीं, मंगलवार को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की मीटिंग के दौरान फिर पाकिस्तान ने एक नए झूठ को प्रसारित करने की कोशिश की। मीटिंग में पाकिस्तान ने एक काल्पनिक नक्शा पेश किया, जिसके बाद भारतीय पक्ष के एनएसए अजीत डोभाल ने मीटिंग छोड़ दी।

वहीं, मामले को लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि बैठक में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने जानबूझकर एक काल्पनिक नक्शा पेश किया। इस नक्शे को पाकिस्तान लगातार प्रचारित-प्रसारित कर रहा है। पाकिस्तान की इस हरकत के बाद भारत ने विरोध जताते हुए मीटिंग छोड़ दी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि इस मीटिंग की अध्यक्षता रूस कर रहा था।

श्रीवास्तव ने कहा कि ‘जैसी की उम्मीद की जा रही थी, पाकिस्तान ने तब इस बैठक को लेकर भ्रामक तस्वीर पेश की।’ वहीं, सरकारी सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान की कार्रवाई एससीओ चार्टर का ‘घोर उल्लंघन’ था और एससीओ के सदस्य देशों की क्षेत्रीय संप्रभुता और अखंडता की सुरक्षा को लेकर सभी स्थापित मानकों के खिलाफ भी। बता दें कि पाकिस्तान की इमरान सरकार ने बीते माह एक नया नक्शा जारी करते हुए लद्दाख, सियाचीन और गुजरात के जूनागढ़ को पाकिस्तान का हिस्सा बताया था। पाकिस्तान तब से लगातार इस नक्शे को प्रचारित कर रहा है।

ये देश हैं SCO में शामिल

बता दें कि शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) स्थायी अंतर-सरकारी अंतर्राष्ट्रीय संगठन है, जिसका उद्देश्य संबंधित क्षेत्र में शांति, सुरक्षा व स्थिरता बनाए रखना है। कज़ाकिस्तान, चीन, किर्गिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान, उज़्बेकिस्तान, भारत और पाकिस्तान इसके सदस्य देश हैं। इसके अलावा अफगानिस्तान, बेलारूस, ईरान और मंगोलिया SCO के पर्यवेक्षक देश हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *