india

PM मोदी का बड़ा बयान, कहा- ‘PAK को हराने मेंं 10 दिन भी नहीं लगेंगे’

दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीसी कैटेड्स को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे। कैडेट्स को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि एनसीसी, देश की युवाशक्ति में संस्कार, दृढ़ निश्चय और देश के देशभक्ति की भावना को मजबूत करने का बहुत सशक्त मंच है। ये भावनाएं देश के विकास के साथ सीधी-सीधी जुड़ी हैं।

पीएम ने कहा, ‘आज विश्व में हमारे देश की पहचान, युवा देश के रूप में है। देश के 65 प्रतिशत से ज्यादा लोग 35 वर्ष से कम उम्र के हैं। देश युवा है, इसका हमें गर्व है लेकिन देश की सोच युवा हो, यह हमारा दायित्व होना चाहिए।’ सीएए पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे लोगों के साथ हुए ऐतिहासिक अन्याय को रोकने के लिए भारत के पुराने वादे को पूरा करने के लिए आज जब हमारी सरकार CAA लेकर आयी है। कुछ राजनीतिक दल अपने वोटबैंक पर कब्जा करने की स्पर्धा में लगे हैं, आखिर किसके हितों के लिए काम कर रहें ये लोग।

आजादी के बाद से भारत ने पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान के हिंदुओं, सिखों और अन्य अल्पसंख्यकों से ये वादा किया था कि अगर उनको जरूरत होगी तो वो भारत आ सकते हैं। यही इच्छा गांधी जी की थी और यही 1950 में नेहरू-लियाकत समझौते की भी थी। दशकों पुरानी समस्याओं की सुलझा रही हमारी सरकार के फैसले पर जो लोग सांप्रदायिकता का रंग चढ़ा रहे हैं, उनका असली चेहरा भी देश देख चुका है और देख रहा है। मैं फिर कहूंगा- देश देख रहा है, समझ रहा है। चुप है, लेकिन सब समझ रहा है। बीते 30 सालों में भारतीय वायुसेना में एक भी फाइटर प्लेन शामिल नहीं किया गया। अब हमारे पास राफेल जैसे फाइटर प्लेन हैं।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि आपकी युवा सोच, आपका युवा मन जो चाहता है, वही हमारी सरकार ने किया। आज दिल्ली में नेशनल वॉर मेमोरियल भी है और नेशनल पुलिस मेमोरियल भी। हमने एक तरफ नॉर्थ ईस्ट के विकास के लिए अभूतपूर्व योजनाओं की शुरुआत की और दूसरी तरफ बहुत ही खुले मन और खुले दिल के साथ सभी के साथ बातचीत शुरू की। बोडो समझौता आज इसी का परिणाम है। युवा मन के साथ देश आगे बढ़ रहा है और इसलिए वह सर्जिकल स्ट्राइक करता है, एयर स्ट्राइक करता है और आतंक के सरपरस्तों को उनके घर में जाकर सबक सिखाता है। इसका परिणाम आप भी देख रहे हैं।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि कश्मीर भारत की मुकुटमणि है। 70 साल बाद वहां से आर्टिकल 370 को हटाया गया। हम जानते हैं कि हमारा पड़ोसी देश हमसे तीन-तीन युद्ध हार चुका है। हमारी सेनाओं को उसे धूल चटाने में हफ्ते-दस दिन से ज्यादा समय नहीं लगता। एनसीसी कैडेट्स को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे पड़ोसी देश हमसे तीन-तीन युद्ध हार चुके हैं। हमारी सेना को 10-12 दिन से अधिक नहीं लगेंगे उन्हें परास्त करने के लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *